पवित्र भगवाध्वज को गुरू रुप में प्रणाम कर समर्पित हुई गुरू दक्षिणा

गोला बाजार, गोरखपुर। उपनगर स्थित एक मैरिज हाल में संघ परिवार द्वारा गुरु दक्षिणा कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लोगों ने उपस्थित होकर पवित्र भगवा ध्वज को गुरु के रूप में प्रणाम कर गुरु दक्षिणा समर्पित की गई।
कार्यक्रम में उपस्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला प्रचारक सन्तोष ने उपस्थित स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए कहा कि 1925 में नागपुर में डॉ केशव राव बलिराम हेडगेवार ने संघ की स्थापना की थी। स्थापना के बाद संघ का गुरु कौन बनेगा। इसकी तलाश शुरू हो गई। इसमें पवित्र भगवा ध्वज को लोगों ने गुरु की मान्यता दी और प्रति वर्ष गुरु पूर्णिमा के अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ परिवार के लोग एकत्रित होकर पवित्र भगवा ध्वज रूपी गुरु को यथाशक्ति श्रद्धा अनुसार दक्षिणा समर्पित करते हैं और आने वाले वर्ष के लिए संकल्प लेते हैं कि इस देश राष्ट्र और समाज के लिए जब भी कोई आवश्यकता पड़ेगी हम संघ के कार्यकर्ता तन, मन, धन से इस देश समाज राष्ट्र की सेवा करने के लिए सदैव तत्पर रहूंगा और आगे कहा कि भारत माता समाज देश व संघ के प्रति समर्पण होना चाहिए जो समाज संगठित होगा वही शक्तिशाली होगा। कार्यक्रम के शुभारंभ में जिला कोषाध्यक्ष शत्रुघ्न कसौधन ने संघ के कार्यकर्ताओं का स्वागत किया। इस अवसर पर प्रमुख रुप से विनोद तिवारी, रणविजय चंद, अमरमणि त्रिपाठी, देवेश निषाद, मार्कंडेय उमर, दीपक जायसवाल, बबलू सोनकर, दीपक प्रजापति, अर्जुन सोनकर, दीनानाथ, अक्षयबर जायसवाल आदि लोग मौजूद रहे।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

Sorry, there are no polls available at the moment.

Related Articles

Back to top button
Close
Close