किसान नेताओं को प्रशासन ने किया नजरबंद

देवरिया। बरियारपुर में डिप्टी सीएम केशव मौर्य के कार्यक्रम में जाने की सूचना पर सोमवार को पुलिस ने भाटपाररानी व बनकटा में किसान सभा के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को उनके घर पर ही नजरबंद कर दिया। किसान सभा के नेता 183 पटटाधारकों को कब्जा दिलाए जाने की मांग को लेकर बरियारपुर में पहुंच कर धरना देने वाले थे। लेकिन डिप्टी सीएम के कार्यक्रम को लेकर चौकस पुलिस प्रशासन ने धरना प्रदर्शन की सूचना पर किसान नेताओं को उनके घर पर सुबह से ही नजरबंद कर दिया।
भाटपाररानी थाना क्षेत्र के छोटका गांव में किसान सभा के नेता कामरेड साधुशरण के घर उनके साथ जिलापंचायत सदस्य मंजु देवी, विद्यावती देवी, चन्द्रभान यादव, रामानंद गोड, जयप्रकाश कुशवाहा, नवल बिहारी, श्रीराम सिंह, नथुनी सिंह, रामलक्षण, रामनरेश कुशवाहा, सत्येन्द्र आदि को पुलिस ने नजरबंद कर दिया। बनकटा थाना क्षेत्र के बंगरूआ में भी किसान सभा के जिलाध्यक्ष जयप्रकाश यादव सहित कविलास, रघुनाथ, बलिस्टर, नरेन्द्रदेव आदि को पुलिस ने नजरबंद किया। इस दौरान किसान सभा के नेता भूख हड़ताल पर रहे। कामरेड साधुशरण के अनुसार सोमवार को बरियारपुर में 183 पटटाधारकों को पटटा एवं उस पर उन्हे कब्जा दिलाने की मांग को लेकर सोमवार को किसान सभा के द्वारा बरियारपुर टाउनएरिया में धरना आयोजित था। धरना में शामिल होने के लिए भाटपाररानी व बनकटा से किसान सभा के सैकडों कार्यकर्ता जाने वाले थे। लेकिन पुलिस प्रशासन ने किसान नेताओं ने सुबह में हाउस अरेस्ट कर दिया। इस दौरान किसान के नेता भूख हड़ताल कर विरोध दर्ज किया।