सीएम के जनता दरबार में आए छह फरियादी मिले कोरोना संक्रमित

पटना। बिहार में कोरोना की तीसरी लहर की रफ्तार तेज हो रही है। डाक्टर से लेकर पुलिसकर्मी तक संक्रमित हो गए हैं। सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के जनता दरबार में फरियाद सुनाने आए छह लोग कोरोना पाजिटिव पाए गए। मुख्यमंत्री के कक्ष में प्रवेश से पहले एंटीजन किट से कराई गई जांच में इन लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इधर सीएम ने स्वयं भी गले में खराश जैसी समस्या बताई और अपने स्टाफ से गर्म पानी मंगवाकर पी। उन्होंने कहा कि सुबह से खांसी जैसा हो रहा है। बता दें कि सीएम के जनता दरबार में प्रवेश से पहले फरियादियों की कोरोना जांच कराई जाती है। पॉजिटिव पाए गए लोगों में सासाराम, गोपालगंज और नवादा जिले के निवासी शामिल हैं। इन सभी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
पूर्व सीएम ने दी यह सलाह: बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने कोरोना की तीसरी लहर पर चिंता जताई है। उन्होंने ट्वीट कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सलाह दी है। कहा है कि कोरोना के बढ़े संक्रमण को ध्?यान में रखते हुए सीएम से आग्रह है कि जनता दरबार कार्यक्रम को फिलहाल स्थगित रखा जाए। राज्यहित में यह कारगर फैसला होगा।
बता दें कि सर्दी के साथ राज्य में कोरोना संक्रमण भी बढ़ रहा है। पिछले 24 घंटे के दौरान 352 नए संक्रमित मिले हैं। संक्रमण का दायरा भी बढ़ा है। एक दिन पहले 26 जिले में संक्रमण था, जो रविवार को 27 जिलों में फैल गया। सबसे ज्यादा 142 नए संक्रमित पटना जिले में मिले हैं। गया जिले में 110 नए पाजिटिव पाए गए हैं। तीसरे नंबर पर मुंगेर और जहानाबाद जिले में 13-13 नए संक्रमित पाए गए हैं। पांच या उससे अधिक संक्रमित जिन जिलों में मिले हैं, उनमें जमुई, लखीसराय, खगडिय़ा, मुजफ्फरपुर और सहरसा शामिल है। कोरोना में हफ्ते भर से लगातार तेज वृद्धि दर्ज की जा रही है। बिहार के अन्य जिलों में औरंगाबाद और बांका में चार-चार, बेगूसराय में एक, भागलपुर में तीन, भोजपुर में दो, दरभंगा में दो, गोपालगंज में एक, कैमूर में एक, मधुबनी में दो, नालंदा और नवादा में दो-दो नए संक्रमित पाए गए हैं। इसी तरह पूर्णिया में दो, समस्तीपुर में चार, सारण में तीन, सीतामढ़ी में एक, सिवान में दो, सुपौल में एक, वैशाली में तीन, पश्चिमी चंपारण में दो और अन्य राज्य के दो संक्रमित मिले हैं।