जमीन बेचने का झांसा देकर हड़पे आठ लाख रुपए

लखनऊ। प्लॉट बेचने का झांसा देकर ठगों ने एक व्यक्ति से आठ लाख रुपये ऐंठ लिए। पीडि़त ने पारा थाने में शिकायत की थी जिस पर आरोपियों ने समझौता करते हुए रुपए लौटाने की बात कही थी लेकिन रुपये वापस नहीं किए। ठगों की हरकत से परेशान होकर पीडि़त ने पारा कोतवाली में दो लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है।
उन्नाव मझिगंवा निवासी अनुज कुमार लखनऊ में जमीन तलाश रहे थे। इस सिलसिले में उनकी मुलाकात आलमबाग निवासी मुकुल चंद्र पाण्डेय से हुई थी जिसने पारा के देवपुर में एक प्लॉट दिखाया था। मुकुल के साथ उसका दोस्त सचिन शुक्ला निवासी आलमबाग भी मौजूद था। बातचीत के बाद 1200 वर्ग फीट प्लॉट के लिए अनुज ने आठ लाख रुपये दिए थे जिसके बाद उन्हें कब्जा भी दिया गया था। अनुज के मुताबिक कुछ वक्त बाद वह प्लॉट पर निर्माण कार्य कराने पहुंचे थे। तभी जितेंद्र यादव वहां आ गए जिन्होंने प्लॉट पर हक जताते हुए निर्माण कार्य करने से रोक दिया। अनुज के मुताबिक लेखपाल से सम्पर्क करने पर पता चला कि मुकुल चंद्र पाण्डेय और सचिन शुक्ला ने किसी दूसरे की जमीन को अपना बता कर आठ लाख रुपये ऐंठ लिए हैं। ठगों की सच्चाई पता चलने पर अनुज ने हंसखेड़ा चौकी में शिकायत की थी। पुलिस के सामने हुए समझौते में मुकुल और सचिन ने जल्द ही रुपये लौटाने की बात भी कही थी। लेकिन बाद में दोनों लोग मुकर गए और तकादा करने पर अनुज को धमकाने लगे। इंस्पेक्टर पारा के मुताबिक पीडि़त की तहरीर पर एफआईआर दर्ज कर जांच की जा रही है।