पूर्वांचल में बदला मौसम का मिजाज, बूंदाबांदी के साथ शुरू हुई बारिश

गोरखपुर। गोरखपुर शहर समेत आसपास के इलाकों में गुरुवार की सुबह बूंदाबांदी शुरू हो गई। इससे पहले से पड़ रही ठंड और बढ़ गई। बीते तीन-चार दिन से ठंड बढ़ गई थी, गुरुवार को बूंदाबांदी से कंपकपी बढ़ा दी है। मौसम विशेषज्ञ ने अनुमान जताया है कि आज शाम तक हल्की बारिश होगी।
गोरखपुर और आसपास के क्षेत्र में गलन भरी ठंड का सिलसिला जारी है। पांच दिन के अंतराल के बाद बुधवार को निकली बेदम सी धूप ने लोगों को फौरी रात दी लेकिन शाम ढलते ही गलन भरी ठंड ने दिन की राहत पर पानी फेर दिया। मौसम विज्ञानी कैलाश पांडेय के मुताबिक कड़ाके की ठंड का यह क्रम फिलहाल पखवारे भर तक चलते रहने का पूर्वानुमान है।
आठ, नौ जनवरी को भी बारिश के आसार
उन्होंने बताया कि आठ जनवरी और नौ जनवरी को हल्की बारिश का माहौल बन गया है। गुरुवार से गोरखपुर और आसपास के क्षेत्रों में बादल आसमान में डेरा डालने लगेंगे। इसका प्रभाव आठ और नौ जनवरी को बारिश के रूप में देखने को मिलेगा। एक और वायुमंडलीय परिस्थिति 12-13 जनवरी के लिए भी बन रही है। दोनों ही बार बारिश देश के पश्चिमोत्तर हिस्से में बनने पश्चिमी विक्षोभ के चलते होगी। आठ-नौ जनवरी के लिए एक पश्चिमी विक्षोभ बन चुका है और 12-13 जनवरी के लिए इसके बनने का माहौल तैयार हो चुका है।
आकड़ों में ठंड की बात करें तो बुधवार को गोरखपुर का अधिकतम तापमान 17.5 और न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। सुबह से दोपहर तक नम पुरवा हवाएं चलीं जबकि दोपहर उनकी जगह करीब 10 किलोमीटर की रफ्तार से चल रही पछुआ हवाओं ने ले लिया। गुरुवार के तापमान के बारे मेें मौसम विज्ञानी बताते हैं कि यह 10 से 18 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। बादलों की मौजूदगी में सर्द पछुआ हवाएं गलन का अहसास कराएंगी।