प्रदेश में अगले तीन से चार दिनों में बारिश के आसार

गोरखपुर समेत पूर्वांचल में हल्की धूप से लोगों को मिली राहत
लखनऊ/गोरखपुर। हाड़ कंपा देने वाली ठंड से फिलहाल निजात मिलने के आसार नहीं हैं। मौसम निदेशक जेपी गुप्त के अनुसार अगले तीन-चार दिन प्रदेश में बदली-बारिश का सिलसिला रहेगा। उन्होंने बताया कि पाकिस्तान व जम्मू कश्मीर के आसपास केन्द्रित पश्चिमी विक्षोभ की वजह से प्रदेश में बदली-बारिश के आसार बन रहे हैं। 15 व 16 जनवरी को पूरे प्रदेश में बादल छाए रहेंगे। राजधानी लखनऊ सहित कहीं मध्यम तो कहीं भारी बारिश हो सकती है। कुछ इलाकों में ओलावृष्टि की भी आशंका है। मौसम निदेशक ने बताया कि इस बारिश की वजह से तापमान में गिरावट आएगी। ठंड और गहरा सकती है। लखनऊ सहित प्रदेश के कुछ हिस्सों में कोल्ड डे की वजह से पूरा दिन कुहासा बना रहा। दिन में धूप नहीं निकली। सुबह घना कोहरा रहा। शाम होते-होते फिर से कोहरा गहरा गया। प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान बहराइच रहा जहां पारा 4 डिग्री सेल्सियस पर दर्ज किया गया। फिलहाल गोरखपुर समेत कई जनपदों में आज हल्की धूप निकलने से लोगों को ठंडक से राहत मिली।
बीते सोमवार को लखनऊ, बरेली, मेरठ, आगरा, कानपुर मंडलों में दिन के तापमान में उल्लेखनीय गिरावट दर्ज की गयी। फैजाबाद, कानपुर, लखनऊ, बरेली, आगरा, मेरठ मंडलों में दिन का तापमान सामान्य से कम दर्ज किया गया। रविवार की रात गोरखपुर, फैजाबाद, कानपुर मंडलों में पारा सामान्य से कम पर दर्ज हुआ। पहाड़ों पर सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ से सोमवार को मेरठ सहित पूरा वेस्ट यूपी घने कोहरे की चादर में लिपट गया। सुबह दस बजे तक घना कोहरा छाया रहा। दिन में धूप निकली, लेकिन बर्फीली हवाओं से ठंड बढ़ गई। रात को वेस्ट यूपी में बारिश ने दस्तक दे दी। देर रात तक कहीं मध्यम तो कहीं तेज बारिश रिकॉर्ड हुई। कुछ इलाकों में ओले भी गिरे। आज भी बारिश के आसार हैं। 20 जनवरी तक वेस्ट यूपी में बारिश का सिलसिला इसी तरह जारी रहने के आसार हैं। मेरठ में सुबह कोहरे के बाद दिन में सूरज की लुकाछिपी जारी रही। देर शाम बारिश से मौसम बदल गया। कई इलाकों में तेज बारिश दर्ज की गई है। सहारनपुर में हुई बारिश और ओलावृष्टि ने गलन के साथ ठिठुरन बढ़ा दी। न्यूनतम पारा सात डिग्री रिकार्ड किया गया। नकुड़ और सरसावा क्षेत्र मे ओलावृष्टि ने किसानों की चिंता बढ़ा दी। मुजफ्फरनगर में बूंदाबांदी और सर्द हवाओं के साथ घने कोहरे ने वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक लगा दिया। बिजनौर में सवेरे से कोहरा छाया रहा, दिनभर में कुछ देर के लिए धूप निकली। दोपहर बाद बूंदाबांदी ने मौसम का मिजाज बदल दिया। बागपत में सुबह से ही तेज बर्फीली हवाओं के चलते मौसम का मिजाज बदल गया। न्यूनतम तापमान 11 डिग्री होने के बाद भी लोग ठंड से कंपकपाते रहे। पूरे दिन सूर्यदेव की लुकाछिपी जारी रही। देरशाम बूंदाबांदी हुई। हापुड़ में सुबह कोहरा और दिन में आसमान में छाए बादलों के बाद हल्की बूंदाबांदी ने लोगों को फिर से ठंड का अहसास करा दिया। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक पहाड़ों पर एक के बाद एक पहुंच रहे पश्चिमी विक्षोभों का असर मैदानों तक पहुंच रहा है। सोमवार को इसी विक्षोभ से बारिश की शुरुआत हुई। 15 जनवरी को सुबह कोहरा छाएगा, लेकिन फिर मौसम साफ होने की उम्मीद है। 16-17 जनवरी को फिर से मैदानों में बारिश दस्तक देगी। 18 को मामूली राहत मिलेगी लेकिन 19-20 जनवरी को संभावित पश्चिमी विक्षोभ की बारिश फिर से वेस्ट यूपी को भिगोएगी। 18 जनवरी से मैदानों में एक बार फिर से शीतलहर की वापसी के आसार हैं। इस दौरान दिन के तापमान में व्यापक गिरावट हो सकती है।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close