चुनाव तिथि की घोषणा के बाद बोले अखिलेश-10 मार्च को बीजेपी का सफाया

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तिथियों के घोषणा होने के बाद सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने पहली प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि चुनाव आयोग को सरकार पर सख्ती करनी चाहिए। हम आयोग के निर्देशों का पालन करेंगे। अखिलेश यादव बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि सरकार मनमानी करती है। बीजेपी नियम का उल्लंघन करती है। उन्होंने कहा कि वक्त आ गया है। 10 मार्च को बीजेपी साफ हो जाएगी। उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव के दौरान राज्य के अधिकारी बीजेपी के कार्यकर्ता बन गए थे। पंचायत चुनाव में लोगों को पर्चे दाखिल नहीं करने दिए गए। चुनाव आयोग ने जो शर्तें रखी हैं उनका पालन करेंगे। चुनाव आयोग को सरकार के लिए सख्ती रखनी चाहिए। क्योंकि यह सरकार नियमों को नहीं मानती है। चुनाव आयोग देखे कि सरकार में बैठे लोग नियमों को मानें। पहली बार ऐसा हो रहा है कि कोविड में चुनाव हो रहा है। चुनाव आयोग ने कई नियम बनाए हैं। आशंका इस बात की है कि कोविड फैलेगा। यदि हम वर्चुअल रैली के लिए जाएंगे तो चुनाव आयोग को उन पार्टियों के लिभी सोचना चाहिए जिनके पास इसके लिए पर्याप्त संसाधन नहीं हैं। सभी पार्टियों को मौका मिले। सभी राजनीतिक दलों को बराबर देखना चाहिए। बीजेपी के पास सबसे अधिक इन्फ्रास्ट्रक्चर है। बीजेपी सरकार में है। सबसे अधिक चंदा उसी को मिलता है।