झोपड़ी में अचानक लगी आग, मवेशी मरी

गोला बाजार, गोरखपुर। उपनगर के बिसरा गांव में बुधवार को समय लगभग ग्यारह बजे दिन में रामाज्ञा यादव की झोपड़ी में अचानक आग लग गयी। झोपड़ी में दो भैस बंधी हुई थी। भूसा व गेंहू का गल्ला रखा हुआ था। झोपड़ी से उठते हुए धुंआ को देखकर स्थानीय ग्रामीण बुझाने के लिए दौड़ पड़े लेकिन आग इतनी भयावह थी वह अपना बिकराल रूप पकड़ लिया। ऐसे में लोग किसी तरह एक भैंस को लोग बाहर कर पाए लेकिन वह भी बुरी तरह झुलस चुकी थी दूसरी भैस अंदर ही जलकर दम तोड़ दिया। आग बुझाने का प्रयास ग्रामीणों ने किया लेकिन आग ने झोपड़ी में रखा भूसा व गेंहू सब कुछ जला कर खाक कर दिया। सूचना तहसील प्रशासन को ग्रामीणों ने दिया। मौके पर राजस्व कर्मी ओमप्रकाश यादव व उपेंद्र कुमार पहुंचे। पशु चिकित्सक डा समदर्शी भी अपनी टीम के साथ घटनास्थल पर गए। मरे हुए भैंस का पीएम किए और बुरी तरह आग से झुलसी हुई भी का उपचार किए लेकिन उसकी भी हालत नाजुक बनी हुई है।
जानकारी के मुताबिक ग्राम बिसरा में रामाज्ञा यादव के रिहायशी मकान के पास पशुओं के रहने व भूसा व अन्न रखने के लिए पशुशाला झोपड़ी का बना हुआ है। उसी में उनकी दोनो अच्छी नस्ल की भैंस धूप के कारण अंदर बंधी हुई थी और गल्ला व भूसा भी रखा गया था। अचानक दिन ग्यारह बजे छप्पर से धुंआ निकलना आरम्भ हुआ। धुंआ देख अगल-बगल के लोग दौड़ पड़े लेकिन आग ने अपना विकराल रूप धारण कर लिया। लोग किसी तरह एक भैंस को बाहर निकलने में सफल हुए लेकिन वह भी बुरी तरह झुलस उठी थी। दूसरी भैस ने अंदर ही दम तोड़ दिया। छप्पर में रखा सारा अन्न व भूसा जलकर खाक हो गया। मरी हुई भंैस की कीमत लाखों में बताई जा रही है। दूसरी भंैस की भी हालत नाजुक बनी हुई है। पशुचिकित्सक मौके पर पहुंचकर मरी भैंस का पीएम किए और झुलसी हुई भैस का उपचार किए। राजस्व टीम मौके पर पहुंचकर अपनी रिपोर्ट तहसील प्रशासन को सुपुर्द कर दिया।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

Sorry, there are no polls available at the moment.

Related Articles

Back to top button
Close
Close