ओलावृष्टि गिरने से चार की मौत

 

गोरखपुर। बिजली-बारिश और ओले कहर बनकर गिरे। महराजगंज में अलग-अलग स्थानों पर बिजली गिरने से एक महिला व एक किशोर समेत चार लोगों की मौत हो गई वहीं पांच घायल हो गए। कुशीनगर, देवरिया, गोरखपुर और संतकबीरनगर के बड़े हिस्से में ओलावृष्टि हुई जिससे काफी बड़े क्षेत्रफल में फसलों को नुकसान हुआ है। निचलौल के बजहां उर्फ अहिरौली में गांव के पास क्रिकेट खेल बच्चे बारिश होने पर पेड़ के नीचे छिप गए। तेज आवाज के साथ बिजली गिरने पर किशोर प्रिंस चौरसिया की मौके पर ही मौत हो गई। उसके साथ खड़े किशोर नूर हसन, सदरे आलम व फाजिल हसन झुलस गए। कोठीभार के कैमा गांव के राम गुलाब गेहूं के खेत में पानी दे रहे थे। इसी दौरान बिजली गिरी और वह झुलस गए। ग्रामीण उन्हें निचलौल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया। कुईयां गांव में बिजली गिरने से कुशीनगर के सौरहा बुजुर्ग निवासी मोटर साइकिल सवार युवक गोव?िंद झुलस गए। ठूठीबारी के सुकरहर गांव निवासी रामरक्षा चौधरी की खेत से लौटने के दौरान बिजली की चपेट में आने से मौत हो गई। चौक बाजार के शमशाद खेत में खाद डालते वक्त बिजली गिरने से झुलस गए। घुघली के पकडिय़ार विशुनपुर गांव की राफिकुन्निशा खेत में काम करते वक्त बिजली गिरने से झुलस गईं और उनकी मौके पर ही मौत हो गई।
बारिश के साथ ओलावृष्टि ने गेहूं, सब्जी के साथ सरसों की फसल को भी नुकसान पहुंचाया। कुशीनगर के तमकुहीराज, देवरिया के भाटपार रानी, सलेमपुर, खुखुंदू, गौरीबाजार, बरहज, बैतालपुर, गोरखपुर में पिपराइच, पीपीगंज, कैम्पियरगंज और चौरीचौरा विकास खंड के साथ संतकबीर नगर के मेहदावल व धनघटा तहसील क्षेत्र के कई गांव ओला वृष्टि से प्रभावित हुए। ओलावृष्टि के बाद कुछ समय तक मौसम ठीक रहा, फिर शाम छह बजे गोरखपुर समेत आसपास के इलाकों में तेज बारिश शुरू हो गई।