देवरिया सदर से टिकट मिलने की रेस में विजय बहादुर आगे

सदर क्षेत्र में अलग पहचान रखता है परिवार

 

देवरिया। कांग्रेस ने पूर्वांचल की कई विधानसभा सीटों पर प्रत्याशी घोषित कर दिये हैं, ऐसे में देवरिया सदर से विजय बहादुर सिंह के समर्थकों को उम्मीद है कि उनके ही नेता को टिकट मिलेगा। दरअसल, विजय बहादुर लंबे समय से कांग्रेस में हैं और पेशे से वकील भी हैं। उनकी सदर विधानसभा क्षेत्र में अलग पहचान है। बताना चाहेंगे कि विजय बहादुर पिछले 12 वर्षों से अधिवक्ता के रूप में लोगों को कानूनी सलाह देते आ रहे हैं। जिले में कांग्रेस के लिए उन्होंने कई रैलियां कीं। इतना ही नहीं पूर्व में पार्टी के कई कद्दावर नेताओं के साथ उनके विधानसभा क्षेत्रों में खुद कैंपेनिंग किया। विजय बहादुर के बेटे व शहर कांग्रेस उपाध्यक्ष आशीष सिंह राजन, युवाओं में बेहद लोकप्रिय हैं। आशीष बचपन से पारिवारिक संस्कारों की वजह से भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में अपनी आस्था बनाये रखे। इतना ही नहीं कांग्रेस की मजबूती के लिए आशीष राजन ने जिले में 100 से ज्यादा कैंप किये। कोविड के समय आम लोगों की मदद की। बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिल सके इसके लिए आशीष राजन ने खुद कई कंपनियों में बातकर सैकड़ों युवाओं को रोजगार पर लगाने का काम किया है। जब कोविड की लहर चल रही थी तब आशीष राजन ने लोगों की कांग्रेस में निष्ठा बनी रही और भाजपा सरकार पर प्रहार हो सके इस उद्देश्य से कांग्रेस के पार्टी कार्यालय पर हजारों लोगों को भोजन कराया। कई लोगों की आर्थिक मदद की। विभिन्न अवसरों पर बाइक रैली निकालकर कांग्रेस की नीतियों को आमजन तक पहुंचाने का कार्य किया। सदर क्षेत्र के तमाम युवाओं को कांग्रेस से जोडक़र आशीष सिंह राजन ने उन्हें एक वैचारिक मंच दिया, ताकि वे सभी मुखर होकर अपने अधिकारों की बात कर सकें।