हम उस कौम से हैं, जो किसी भी देश को बर्बाद कर देंगे: पूर्व अध्यक्ष एएमयू

पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष का देश विरोधी बयान हुआ वायरल
अलीगढ़। सीएए को लेकर देशभर में चल रहा गतिरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। संसद से पास कानून का विरोध करने वाले पहले ही तमाम मर्यादाओं को लांघ चुके हैं। विरोध के ये स्वर जिन्ना वाली आजादी से आगे बढक़र अब कौम के नाम पर किसी भी देश को बर्बाद करने की धमकी तक पहुंच चुके हैं। अलीगढ़ मुस्लिम विवि के खिलाफ चल रहे छात्र आंदोलन के दौरान पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष फैजुल हसन का देश विरोधी बयान सामने आया है। छात्र नेता ने कहा है कि दुनिया में कहीं सब्र देखना है तो हिंदुस्तान के मुसलमानों का देखिए। उन्होंने कहा कि मुसलमान सब्र कर रहा है कि हिंदुस्तान टूट ना पाए। हम उस कौम से हैं, अगर बर्बाद करने पर आ गए तो छोड़ेंगे नहीं, किसी भी देश को खत्म कर देंगे। इस बयान को उत्तर प्रदेश पुलिस को ट्वीट किया गया है, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई शुरू नहीं हुई है। फैजुल हसन ने इस बयान पर सफाई भी दी है।
छात्र नेता ने यह बयान एएमयू में 22 जनवरी की देर शाम धरने पर दिया जो वायरल हो गया। उन्होंने कहा कि हमने तय कर लिया है। धरना चल रहा है। यदि सीएए, एनआरसी वापस नहीं होता है तो यह छह दिन, छह माह, छह साल तक चलेगा। अमित शाह ने एक समुदाय से दुश्मनी लेकर पूरे देश को गृह युद्ध में झोंक दिया है। एएमयू में धरना तब तक जारी रहेगा जब तक काला कानून वापस नहीं होता। छात्र अभी आए नहीं हैं, 26 जनवरी के बाद पूरी यूनिवर्सिटी खुलेगी। मंगलवार को अमित शाह ने लखनऊ में कहा था कि डिबेट कर लें। वह यहां के 12वीं के छात्र से भी डिबेट नहीं कर पाएंगे। योगी ने बयान दिया है कि मैं वो हालात कर दूंगा कि सात पुश्तें परेशान हो जाएंगी। इससे बहुत गुस्सा हैं। हमने इस मुल्क को बचाया है। अपने गले को कटवाया है।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close