डाइंग मिल में लगी भीषण आग, तीन की मौत

गुजराज। सूरत शहर के पलसाणा इलाके में एक बड़ी दुर्घटना सामने आई है। यहां एक डाइंग मिल में गुरुवार को लगी भीषण आग लग गई। इस आग की चपेट में आने से तीन लोगों की मौत हो गई। डिवीजनल अग्निशमन अधिकारी विजयकांत बी तिवारी ने बताया कि सौम्या प्रोसेस प्राइवेट लिमिटेड में पहली मंजिल पर तडक़े अचानक आग लग गयी। सूचना मिलते ही दमकल की 18 गाडिय़ों के साथ दमकल कर्मी मौके पर पहुंचे। आग काफी भयंकर थी। जिसे काबू पाने में दमकल कर्मियों को काफी मशक्कत करनी पड़ी। उन्होंने करीब सात घंटे की कड़ी मशक्क्त के बाद आग पर काबू पा लिया। हालांकि अभी भी धुएं को कूलिंग करने में तीन से चार घंटे लग सकते हैं। कूलिंग के दौरान सामान के नीचे दबे तीन लोगों के शव बाहर निकाले गए, जबकि वहां काम कर रहे अन्य कर्मचारी आग लगते ही तुरंत सुरक्षित मिल से बाहर निकल आए थे। पुलिस ने भी मौके पर पहुंच कर आवश्यक कार्रवाई शुरू कर दी है।
वहीं लतौना दक्षिण पंचायत के मटकुरिया वार्ड सात में बीती रात एक घर में आग लगने से लगभग पचास हजार से अधिक के सामान जलकर राख हो गए। आग में झुलस कर तीन बकरियों की मौत हो गई जबकि एक गाय और बछड़ा भी झुलस गया है। बताया जाता है कि सुरेंद्र सरदार के घर में अलाव जल रहा था। रात लगभग 11 बजे अलाव से घर में आग लग गई। घर में आग लगा देखकर गृहस्वामी के शोर मचाने पर आसपास के लोग पहुंचे। इसके बाद ग्रामीणों के सहयोग से आग पर काबू पाया गया। गृहस्वामी सुरेन्द्र सरदार ने बताया कि अगलगी में कपड़ा, पशुचारा, खाद, नगद पांच हजार रुपए जल गया। उन्होंने बताया कि वह त्रिवेणीगंज में ठेला चला कर परिवार का भरण पोषण करता है। गृहस्वामी ने सीओ को आवेदन देकर मुआवजा देने की मांग की है।