भाजपा का जदयू पर हमला, कहा- श्याम सिंह को निकालें पार्टी से बाहर

पटना (बिहार)। भाजपा ने अपने प्रदेश अध्यक्ष डा. संजय जायसवाल पर आपत्तिजनक बयान देने के लिए जदयू के पूर्व विधायक श्याम बहादुर सिंह को निशाने पर लिया है। प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष राजीव रंजन ने जदयू से उनको उन्हें निष्कासित करने की मांग की है। राजीव रंजन ने कहा है कि श्याम बहादुर सिंह की भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष तो दूर किसी सामान्य कार्यकर्ता पर भी उंगली उठाने की हैसियत नहीं है। जदयू के यह नेता खुद अपनी और अपनी पार्टी की फजीहत करवाने के लिए जाने जाते हैं। दारू से इनका प्रेम इतना अधिक है कि सर्दी के मौसम के बाद इन्होंने ‘पियक्कड़ सम्मेलन’ करवाने का ऐलान किया है। डॉ. जायसवाल पर उनका दिया बयान भी सामान्य परिस्थिति में दिया गया नहीं लगता है।
जदयू से आग्रह है कि ऐसे नेताओं पर लगाम लगाए तथा पुलिस प्रशासन से इनकी जांच करवाए। रंजन ने कहा कि वास्तव में जदयू के कुछ नेताओं ने मान-मर्यादा को ताक पर रख दिया है। निजी स्वार्थ की पूर्ति न होने के कारण यह मु_ी भर लोग भाजपा-जदयू की दशकों पुरानी दोस्ती की जड़ में म_ा डालने की कोशिश कर रहे हैं। भाजपा प्रवक्ता अरविंद कुमार सिंह ने गुरुवार को कहा कि श्याम बहादुर सिंह से पूछना चाहता हूं कि जो पियक्कड़ सम्मेलन वह बुलाने जा रहे हैं, उसमें उनके जिला के ही लोग रहेंगे या जदयू के अन्य विधायक व पदाधिकारी भी रहेंगे। कृपया श्याम बहादुर सिंह बताने का कष्ट करेंगे।
सिंह ने विधायक रहते हुए जिस तरह से विधायी गरिमा को ठेस पहुंचाई थी, उसी तरह से अब यह बिहार के बड़े नेताओं की भी गरिमा का ख्याल नहीं रख रहे हैं। श्याम बहादुर सिंह के लिए शराबबंदी कानून कोई मायने नहीं रखता। प्रशासन को ऐसे लोगों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।