पंजाब: चुनाव जीतने के बाद विधायक ही तय करेंगे सीएम: बाजवा

चडीगढ़। पंजाब में विधानसभा चुनाव को लेकर माझा हलके की कादिया सीट से कांग्रेस उम्मीदवार प्रताप सिंह बाजवा ने कहा कि मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की अगुआई में कांग्रेस मैदान में उतरेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को सीएम चेहरे पर कोई संशय होना नहीं चाहिए। कांग्रेस का अपना सिस्टम है कि चुनाव के बाद विधायक दल अपना नेता तय करके आलाकमान को भेजता है और आलाकमान का फैसला अंतिम होता है। अपना नेता चुनने का सामूहिक फैसला तो विधायकों का होता है लेकिन आलाकमान ही इस बारे में अंतिम फैसला करता है। राज्यसभा सदस्य बाजवा ने कहा कि फिलहाल हमारे पास चन्नी सीएम चेहरा हैं जिनकी अगुवाई में चार-पांच लोगों की टीम उनके साथ चुनाव मैदान में उतरेगी और बाकी नेता भी उनका साथ देंगे। चुनाव जीतने के बाद अगले सीएम का फैसला तो बाद की बात है। पार्टी पूरी तरह एकजुट है और वो सीएम दौड़ में शामिल नहीं हैं। हमारा पंजाब समर्थित चुनाव मॉडल होगा जिसमें हम वही वादा करेंगे जिन्हें पूरा करके दिखाया जा सके।
कांग्रेस नेतृत्व ने तय किया है कि इस बार पंजाब विधानसभा चुनाव पार्टी सामूहिक नेतृत्व के आधार पर लड़ेगी लेकिन पार्टी नेता राहुल गांधी के एक करीबी ट्विटर पर एक पोल करा रहे हैं। इसमें उन्होंने 4 विकल्प देकर पूछा है कि पंजाब ष्टरू का चेहरा कौन होना चाहिए? राहुल गांधी के कार्यालय से जुड़े निखिल अल्वा को राहुल गांधी का करीबी भी कहा जाता है। निखिल अल्वा ने ही अपने ट्विटर पर यह पोल कराया है।