सपा वाशिंग मशीन है जिसमें संघी बन जाते हैं सेक्युलर

लखनऊ। विधानसभा चुनाव में बस कुछ ही दिन शेष हैं। इसके मद्देनजर प्रदेश में सियासी गलियारे में भी काफी हलचल हैं। सभी पार्टियों के आरोप-प्रत्यारोप की जुबानी जंग भी तेज हो गई है। ऐसे में प्रदेश में चल रही दल-बदल की सियासत के बीच हैदराबाद के सांसद और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन पार्टी के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने समाजवादी पार्टी पर हमला बोला है। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर लिखा, सपा एक वाशिंग मशीन है, जिसमें संघी सेक्युलर बन जाते हैं। मरहूम कल्याण सिंह, हिंदू युवा वाहिनी के सुनील, स्वामी प्रसाद और अब ये। उम्मीद है के मुस्लिम सपा नेता इनकी गुल-पोशी करेंगे और इनके ‘सामाजिक न्याय के लिए अपनी ‘जवानी क़ुर्बान करेंगे। बाकी बी-टीम का ठप्पा तो सिफऱ् हम पर लगेगा। गौरतलब है कि हाल ही ओबीसी नेता स्वामी प्रसाद मौर्य बीजेपी छोडक़र समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए हैं। इनके अलावा भी कई विधायक और कार्यकर्ता बीजेपी छोडक़र सपा ज्वाइन किए हैं। सपा के दिग्गज नेताओं का मानना है कि अब भी बीजेपी के कई विधायक सपा का दामन थामने वाले हैं। बता दें कि ओवैसी की पार्टी ने इस बार एक ब्राह्मण नेता को भी टिकट दिया है। इसको लेकर पार्टी चर्चा में है। एआईएमआईएम पार्टी में अकेले ब्राह्मण पंडित मनमोहन झा गाजियाबाद के साहिबाबाद से चुनाव लड़ रहे हैं। गाजियाबाद की साहिबाबाद से मनमोहन मैदान में उतरे हैं। इन्होंने ओवैसी की पार्टी की विचारधार को सही करार दिया है जिसकी वजह से वह पार्टी से जुड़े भी हैं।