घर पहुंची पुलिस तो भडक़े डॉ कफील

 

गोरखपुर। राजघाट थाने के हिस्ट्रीशीटर बन चुके डॉ. कफील खान के घर निगरानी में पुलिस पहुंची तो वह भडक़ गए। डॉ. कफील खान ने ट्वीटर एकाउंट पर पुलिस के दबिश की फोटो पोस्ट कर लिखा कि मैं केरल में हूं। अपनी किताब लोगों तक पहुंचाने के लिए, बच्चों के इलाज में व्यस्त हूं। पर यह बर्दाश्त नहीं पुलिस भेजकर 70 साल की जईफ मां को डरा धमका कर क्या साबित करना चाहते हैं? गिरफ्तार करना चाहते हैं मारना चाहते हैं? कर लो जो करना है डरता नही साहब।

पुलिस ने दिया जवाब
पोस्ट आते ही गोरखपुर पुलिस ने भी आरोप का जवाब दिया। पुलिस ने लिखा कि कफील राजघाट थाने के हिस्ट्रीशीटर हैं। उनकी हिस्ट्रीशीट खुली है व प्रचलित है। चुनाव की वजह से हिस्ट्रीशीटरों के सत्यापन के लिए राजघाट पुलिस इनके घर गयी थी। जहां इनके परिवारवालों ने बताया कि वह काम से बाहर गए हैं।

ऑक्सीजन कांड के मुख्य आरोपी हैं डॉ. कफील
आपको बता दें कि डॉ. कफील पर ऑक्सीजन कांड में केस हुआ वह जेल गए। जमानत पर आए तो व योगी सरकार के खिलाफ विरोध करते रहे। कई मामलों में 6 से ज्यादा केस दर्ज है।