सरकार बनने पर 22 लाख को देंगे रोजगार: अखिलेश

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने घोषणा पत्र का एक और बिंदु मीडिया से साझा किया। अखिलेश यादव ने 2022 में सरकार बनने पर 22 लाख युवाओं को आइटी सेक्टर में रोजगार देने के साथ सभी प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं को लैपटाप देने की घोषणा की। प्रदेश कार्यालय में पार्टी के अखिलेश यादव ने पत्रकारों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश में 2022 में सपा की सरकार आएगी तो हम आइटी सेक्टर में ही 22 लाख युवाओं को रोजगार देंगे। उन्होंने कहा कि चुनाव को लेकर हमने जनता को बड़ा लाभ देने वाले फैसलों के क्रम में इसको बढ़ाया है। हम सभी घरेलू उपभोक्ताओं 300 यूनिट मुफ्त बिजली के साथ किसान को सिंचाई के लिए मुफ्त बिजली देने की घोषणा कर चुके हैं। अब हमने सरकार आने पर आइटी सेक्टर में 22 लाख नौजवानों को रोजगार देने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि सपा सरकार आने पर छात्र-छात्राओं को लैपटॉप मिलेगा। आज भी गांव-गांव में सपा का लैपटाप दिखाई देता है। हमारा लैपटाप रोजगार के काम भी आ रहा है।
पूर्व सांसद तथा उनकी पत्नी सपा में शामिल, पत्नी को टिकट
बरेली से कांग्रेस से सांसद तथा मंत्री रहे प्रवीण सिंह ऐरन के साथ उनकी पत्नी पूर्व मेयर सुप्रिया ऐरन शनिवार को समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। प्रवीण सिंह ऐरन बरेली से सांसद और मंत्री भी रहे हैं। उनके साथ उनकी पत्नी बरेली की पूर्व मेयर सुप्रिया ऐरन ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ली। समाजवादी पार्टी ने सुप्रिया ऐरन को बरेली से पार्टी का प्रत्याशी भी घोषित कर दिया है। वह बरेली शहर से चुनाव लड़ेगी। सपा ने बरेली से पहले से घोषित प्रत्याशी राजेश अग्रवाल का टिकट काटकर सुप्रिया ऐरन को प्रत्याशी घोषित कर दिया है। समाजवादी पार्टी ने भारतीय जनता पार्टी को छोडक़र सपा की सदस्यता लेने वाली रीता सिंह को हरदोई के संडीला से प्रत्याशी घोषित किया है। रीता सिंह पूर्व विधायक स्व महावीर सिंह की पत्नी हैं।