गया में छात्रों ने खड़ी बोगी में लगाई आग

श्रमजीवी एक्सप्रेस पर पथराव भी किया

 

गया। गया में नाराज छात्रों ने यार्ड में खड़ी ट्रेन की एक बोगी में आग लगा दी। इतना ही नहीं गुस्साए छात्रों ने श्रमजीवी एक्सप्रेस पर पथराव भी किया। बिहार में रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) की नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी (एनटीपीसी) परीक्षा परिणाम में कथित धांधली के विरोध में अभ्यर्थियों का बीते दिनों से विरोध प्रदर्शन जारी है। डीडीयू रेल मंडल के गया जंक्शन पर बुधवार को गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए अभ्यर्थियों ने जमकर बवाल काटा। छात्रों ने गया जंक्शन के करीमगंज यार्ड में खड़ी एमटी कोच में आग लगा दी। आग की चपेट में आने से एक कोच जलकर राख हो गया। अभ्यर्थियों ने रेल ट्रैक भी काफी देर तक जाम रखा। अभ्यर्थियों को उग्र देखकर आरपीएफ, जीआरपी और जिला पुलिस के अधिकारियों के नेतृत्व में जवान मुस्तैद हैं। करीब तीन से चार सौ की संख्या में आंदोलनकारी रेलवे ट्रैक पर आए। आंदोलित अभ्यर्थियों से वरिष्ठ अधिकारी बातचीत कर रहे हैं। गया स्टेशन परिसर के चारों ओर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। आंदोलन के कारण ट्रेनों का परिचालन भी प्रभावित है। इसके अलावा श्रमजीवी एक्सप्रेस पर पथराव किए जाने की भी खबर है।
छात्रों के उग्र प्रदर्शन को लेकर गया के एसएसपी आदित्य कुमार ने कहा, स्थिति नियंत्रण में है। कोच में आग लगाने वालों की पहचान कर ली गई है। छात्रों से कहना चाहते हैं कि वे किसी के प्रभाव में न आएं और सरकारी संपत्ति को नुकसान न पहुंचाएं। सरकार मामले की जांच के लिए कमेटी गठन की है। रेलवे के अधिकारियों के अलावा एसडीओ मनोज कुमार छात्रों को मनाने में लगी थे। लेकिन, छात्र आरआरबी एनटीपीसी रिजल्ट रद्द होने तक आंदोलन को जारी रखने की बात करते हुए प्रशासन की बात सुनने को तैयार नहीं थे। प्रदर्शनकारी छात्र विभिन्न इलाकों से रेलवे स्टेशन पर पहुंच रहे थे। वही, प्रदर्शन को कंट्रोल करने के लिए पुलिस बल की भी भारी मौजूदगी स्टेशन पर देखी गई। प्रदर्शनकारी छात्र रेलवे स्टेशन के सीढ़ी पर जमे हुए हैं।