बिहार: खान सर समेत छह शिक्षकों की बढ़ेंगी मुश्किलें

पटना (बिहार)। रेलवे भर्ती बोर्ड की एनटीपीसी परीक्षा के परिणाम पर छात्रों के विरोध प्रदर्शन को लेकर केस दर्ज होने के बाद भूमिगत (अंडरग्राउंड) चल रहे खान सर सहित छह शिक्षकों की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। पुलिस ने चेतावनी दी है कि यदि सभी शिक्षक थाने आकर नोटिस नहीं लेते हैं तो उनके घरों पर नोटिस चस्?पा किया जाएगा। कोचिंग संचालकों के साथ बैठक में पटना के एसएसपी डॉ मानवजीत सिंह ढिल्?लो ने कहा था कि आरोपित कोचिंग संचालकों को अपना पक्ष रखने का मौका दिया जाएगा। गौरतलब है कि केस दर्ज होने के बाद से अभी तक छह शिक्षकों ने पुलिस से सम्?पर्क नहीं किया है। पुलिस के मुताबिक एफआईआर आईपीसी की जिन धाराओं के तहत दर्ज की गई है उनमें सात साल से कम की सजा है। इस मामले में मौके से गिरफ्तार छात्रों को जेल भेज दिया है। उनके बयान पर आरोपित बनाए गए लोगों की गिरफ्तारी जांच के बाद ही की जाएगी। पटना के पत्रकारनगर थाने की पुलिस ने सीआरपीसी की धारा 41 के अंतर्गत खान सर सहित छह शिक्षकों को नोटिस देने की प्रक्रिया शुरू की है। एफआईआर के मुताबिक खान सर और अन्?य शिक्षकों पर अभ्?यर्थियों को भडक़ाने का आरोप है। गिरफ्तार छात्रों के बयान के आधार पर शिक्षकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। बिहार के लखीसराय क्षेत्र के तीन और झारखंड के एक छात्र को राजेंद्र नगर टर्मिनल पर तोडफ़ोड़ करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। घटना के बाद से खान सर के कोचिंग संस्थान पर ताला लटका हुआ है। सभी शिक्षक भूमिगत बताए जा रहे हैं।