10 मार्च के बाद फिर चलेगा बुलडोजर: योगी

मैनपुरी के करहल में बोले, सीएम

 

आगरा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को मैनपुरी में जनसभा संबोधित की। क्रिश्चियन ग्राउंड में उन्होंने कहा कि इस बार मैनपुरी की चारों सीटों पर भाजपा ही जीतनी चाहिए। योगी ने कहा कि भाजपा ही राष्ट्रहित में काम करती है। विधानसभा चुनाव में तीसरे चरण के मतदान के लिए शुक्रवार शाम चुनाव प्रचार थम जाएगा। इससे पहले दोपहर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मैनपुरी में थे। करहल में आदित्यनाथ ने कहा कि आपको आश्वासन देने आया हूं कि मैंने मरम्मत के लिए बुलडोजर भेज दिया है। 10 मार्च के बाद जब ये फिर से चलना आरंभ होगा तो जिन लोगो में अभी ज्यादा गर्मी निकल रही है, ये गर्मी 10 मार्च के बाद शांत हो जाएगी।
उन्होंने कहा कि इस बार ध्यान रखना कि मैनपुरी की चारों सीटें भाजपा जीते। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने करहल में आयोजित जनसभा में सपा पर तीखा हमला बोला। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भाजपा के प्रत्याशी प्रो. एसपी सिंह बघेल ने सपा की चूलें हिला दी हंै। जब अखिलेश यादव नामांकन को आए थे तो कह रहे थे केवल पर्चा भरने आया हूं, लेकिन एसपी सिंह बघेल ने पांचवे दिन ही करहल आने पर मजबूर कर दिया। आजमगढ़ ने उनको सांसद बनाया था, परंतु कोरोना काल में वहां एक बार भी नहीं गए। वहां की जनता नाराज है, इसलिए वहां से नहीं लड़े। करहल आ गए, परंतु अब उनकी स्थिति आसमान से टपके और खजूर में अटके वाली हो गई है। योगी आदित्यनाथ ने शिवपाल सिंह यादव को लेकर तीखा तंज किया। कहा कि मैंने कल देखा था। बेचारा शिवपाल यादव, जो प्रदेश का नेता हुआ करता था। कैसी दुर्गति हुई। जिसके पीछे भीड़ चलती थी। उसे बैठने को कुर्सी तक नहीं मिली। नेताजी का सिपहसालार हुआ करता था, परंतु बैठने को केवल कुर्सी का हत्था मिला। शिवपाल यादव दुर्गति का सबसे बड़ा उदाहरण है। हमला जारी रखते हुए योगी ने कहा कि नेताजी मुलायम सिंह यादव भी बहुत होशियार हैं। नेताजी ने कल कहा कि भई तुम लोग जिसे चाहो नेता चुन लो। जबकि पीछे से दूसरा कह रहा था कि नाम ले लो, नेताजी कहने लगे की करहल से कौन लड़ रहा है। बताओ कैसी दुर्गति है कि पिता, पुत्र का नाम नहीं जान रहा। सपा और बसपा की गुंडागर्दी खत्म हो गई है। पहले बेटियां सुरक्षित नहीं थीं। दंगे होते थे। अब दंगा नहीं होता।