युवाओं ने कहा सेना की भर्ती कराइए, रक्षामंत्री बोले- शीघ्र कराएंगे

राजनाथ की सभा में सेना में भर्ती की उठी मांग

 

 

देवरिया। भाजपा की चुनावी रैली को संबोधित करने देवरिया पहुंचे रक्षामंत्री को कुछ क्षण के लिए असहज स्थिति का सामना करना पड़ा। राजनाथ सिंह ने जैसे ही अपना भाषण शुरू किया वैसे ही भीड़ की तरफ से आवाज आई कि सेना में भर्ती शुरू कराइए। राजनाथ सिंह इसका तुंरत उत्तर दिया और कहा कि शीघ्र शुरू कराएंगे। इसके बाद युवक शांत हो गए। एक दिन पूर्व गोरखपुर में भी राजनाथ सिंह की रैली में इस तरह की मांग उठी थी।
सपा सरकार में माफिया के कहने पर अधिकारियों के ट्रांसफर होते थे
ज्ञान प्रकाश इंटर कॉलेज भलुअनी में भाजपा प्रत्याशी दीपक मिश्र शाका के समर्थन में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अटलजी की सरकार को भी आपने देखा है।राजीव गांधी ने कहा था कि क्या करें 100 पैसा भेजता हूं,नीचे नीचे आते आते 15 पैसा पहुंचता है। इस चुनौती को प्रधानमंत्री मोदीजी ने स्वीकार किया। अब सीधे खाते में 100 का 100 पैसा पहुंचता है। रक्षा मंत्री ने कहा कि सपा सरकार के कार्य काल देखा है, माफिया के कहने पर अधिकारियों के ट्रांसफर होते थे। योगी सरकार में ऐसा नहीं है।
अब पूरी दुनिया भारत की सुन रही है: उन्होंने कहा कि पहले दुनिया के मंच जब भारत बोलता था तो कोई सुनता नहीं था। आज भारत बोलता है तो दुनिया सुनती है। शहीदों को गृहमंत्री रहते हुए हमने कंधा दिया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेरे साथ बैठकर दस मिनट में निर्णय लिया। पाकिस्तान को सबक सिखाया। भारत माता का मस्तक झुकने नहीं देंगे। राजनाथ सिंह ने कहा कि आज यूपी में सज्जनों को भय नहीं, दुर्जनों की खैर नहीं। समाजवादी वह होता है। जो जनता को भय और भूख से छुटकारा दिलाए। सच्चे समाजवादी और राष्ट्रवादी हम हैं। कहा कि सपा और बसपा को भी भी देखा है किसी मंत्री के दामन पर भ्रष्टाचार के दाग न लगे हों। सिंह ने कहा कि राजनीति केवल सरकार बनाने के लिए नहीं करते। हम समाज और देश बनाने के लिए करते हैं। रक्षा मंत्री ने कहा कि राहुल गांधी ने कहा था कि गलवान घाटी में चीन के तीन चार मारे गए। भारत के अधिक मारे गए। आस्ट्रेलिया के खोजी पत्रकार ने बताया कि चीन के 40 से 50 सैनिक मारे गए। बताइए, देश की एकता, अखंडता के सवाल पर यह राजनीति करते हैं। यूपी में अर्थव्यवस्था का आकार 2017 में 11 लाख करोड़ था। 2022 में 21 लाख करोड़ पहुंच गई। माताएं बहनें सिर पर घड़ा लेकर घर जाती हैं। मैंने और प्रधानमंत्री ने इससे निजात दिलाने के लिए प्रयास शुरू किया। घरों तक पानी पहुंचाया जा रहा है। आयुष्मान कार्ड से गरीबों को पांच लाख तक इलाज की सुविधा मिल रही है। सरकार बनने पर होली व दीवाली पर मुफ्त सिलेंडर मिलेगा। रक्षा मंत्री सिंह ने कहा कि भारत आज अपने संकल्प से निजात पा रहा है। अमेरिका में कोरोना के कारण इतनी महंगाई बढ़ी है, जितनी 40 वर्षों में नहीं बढ़ी थी। कोरोना के कारण यहां भी मामूली महंगाई बढ़ी, लेकिन छह माह में हम काबू पा लेंगे। बहुत सारी घोषणा की गई है। अन्नपूर्णा कैंटीन चलाई जाएगी। केंद्रीय रक्षा मंत्री ने कहा कि एक करोड़ महिलाओं को न्यूनतम दर पर क्रेडिट कार्ड दिया जाएगा। डबल नहीं, ट्रिपल इंजन की सरकार चल रही है। मोदी का विजन, जनता का पार्टिसिपेशन है।
केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का संबोधन समाप्त होने की ओर था। उसी समय भीड़ में बैठे युवाओं ने आवाज लगाई। रक्षा मंत्री जी…रक्षामंत्री जी….देवरिया में सेना की भर्ती करो…भर्ती करो। उनकी आवाज सुनने के लिए रक्षामंत्री कुछ क्षण के लिए शांत हो गए। उनकी बात सुनने के बाद बोले, शांत हो जाइए…शांत हो जाइए। कोरोना खत्म होने दीजिए। बहुत जल्द यहां भर्ती होगी। उन्होंने युवाओं का उत्साह बढ़ाते हुए कहा…बहुत बढिय़ा…बहुत बढिय़ा। फिर बोले, अब मैं चलूं। भीड़ से आवाज आई जय श्रीराम। उन्होंने वोट की अपील करते हुए अपनी बात खत्म की और हेलीपैड की तरफ चल दिए।
पूर्व मंत्री दुर्गा प्रसाद मिश्र को किया याद: केंदीय रक्षा मंत्री सिंह भाषण की शुरुआत में कहा कि जब दुर्गा जी चुनाव लड़ रहे थे, तब बरहज आया था। आज उनके पुत्र के लिए अपील करने आया हूं। यह भावुक वाला क्षण है।दुर्गा जी इमानदार व्यक्ति थे, अल्हड़ स्वभाव था, लंबे अर्से बाद आया हूं, जब शाका बोल रहे थे तो उनको नीचे से ऊपर तक देख रहा था। दुर्गा जी की छवि दिख रही थी, दीपक मिश्रा को ऐसा वोट दीजिये कि उप्र में रिकॉर्ड कायम हो।