दिनदहाड़े गल्ला व्यापारी का अपहरण

बस्ती। जिले के पैकोलिया थाने से सटे गोंडा जिले के छपिया थाना क्षेत्र से दिनदहाड़े एक गल्ला व्यवसायी का कार सवार बदमाशों ने अपहरण कर लिया। सरेआम हुई इस घटना से दोनों जिलों की पुलिस सकते में आ गई। आनन-फानन में एएसपी और सीओ समेत काफी संख्या में फोर्स मौके पर पहुंच गई। करीब तीन घंटे बाद गल्ला व्यवसायी खुद ही बदहवाश घर पहुंच गए। बताया कि बदमाशों ने 10 लाख रुपये रंगदारी देने के आश्वासन पर छोड़ा है। पुलिस ने मामले की जांच-पड़ताल शुरू कर दी है।
गल्ला व्यवसायी शील प्रकाश उर्फ बबलू पुत्र स्व. किशोरीलाल मोदनवाल निवासी करनपुर थाना छपिया कस्बे के बड़े गल्ला एवं हेचरी व्यवसायी हैं। उनके मुताबिक सुबह करीब सवा नौ बजे कार में सवार तीन लोग दुकान पर आए और मुर्गी का फार्म हाउस खोलने की बात करते हुए बर्तन की मांग करने लगे। बोले, जरा जल्दी सामान दे दो क्योंकि उन सभी को किसी की मिट्टी में शरीक होना है। बबलू उनके साथ गोदाम में गए। सामान दिखा ही रहे थे कि बदमाशों ने कनपटी पर पिस्टल सटाकर कार में बैठा लिया। कार में ले जाते समय उन्होंने मारा-पीटा और कहा कि 20 लाख रुपये फिरौती नहीं दोगे तो तुम्हें और तुम्हारे परिवार के सभी सदस्यों की हत्या कर देंगे। बबलू के मुताबिक 10 लाख रुपये देने की हामी भरने पर बदमाशों ने उन्हें पैकोलिया थाना क्षेत्र के सरैया टीकर गांव के पास गन्ने के खेत में छोड़ दिया। इस घटना से पीडि़त व उनका परिवार डरा-सहमा हुआ है। सीओ मनकापुर संजय तलवार ने बताया कि घटना से जुड़े विभिन्न पहलुओं की जांच-पड़ताल की जा रही है।
थानाध्यक्ष छपिया चितवन प्रसाद ने बताया कि पीडि़त का बयान दर्ज कर अपराधियों को पकडऩे का प्रयास शुरू कर दिया गया है। वहीं घटनास्थल पर व्यापारियों का जमावड़ा लगा रहा। लोग अनहोनी को लेकर तरह-तरह की चर्चा कर रहे थे। पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के सहारे अपहरणकर्ताओं व अपहरण में प्रयोग की गई गाड़ी का सुराग लगाने में जुटी हुई है।