वाराणसी में 5, जौनपुर में 7, चंदौली में 3: पूर्वांचल को लेकर राजभर का दावा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के तहत सातवें और अंतिम चरण की वोटिंग हो रही है। इस फेज में बीजेपी-सपा के अलावा इन दोनों पार्टियों के गठबंधन सहयोगियों अपना दल, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी और निषाद पार्टी की भी परीक्षा होगी। सुभासपा के प्रमुख ओपी राजभर भी खुद इसे चुनावी मंच से प्रतिष्ठा का सवाल बता चुके हैं। जहूराबाद से प्रत्याशी राजभर ने दावा किया है कि पूर्वांचल में उनकी पार्टी अधिकतर सीटें जीतने जा रही है। ओपी राजभर ने सातवें फेज की वोटिंग के बीच े बातचीत में कहा, भाजपा और बसपा गाजीपुर, मऊ, आजमगढ़, अंबेडकर नगर और बलिया में एक भी सीट नहीं जीतेगी। हम वाराणसी में 8 में से 5 सीटें जीतने जा रहे हैं। चंदौली में 4 में से 3, जौनपुर में 9 में से 7 सीटें जीतने जा रहे हैं। हम पूर्वांचल क्षेत्र में 45-47 सीटें जीतने जा रहे हैं। 2017 में भाजपा गठबंधन के साथ मिलकर चुनाव लड़े और फिर योगी सरकार में मंत्री रहे ओपी राजभर इस बार सपा गठबंधन के साथ हैं। राजभर हाल के समय पर बीजेपी और योगी सरकार के खिलाफ बेहद आक्रामक रहे और चुनाव के दौरान उन्होंने कई बार तीखे शब्दों का इस्तेमाल किया। वह अपनी कई रैलियों में यह कहते नजर आए कि इस चुनाव में हार के बाद सीएम योगी को गोरखपुर भेज देंगे तो 2024 में मोदी-शाह को गुजरात भेज दिया जाएगा।