एग्जिट पोल से अलग होंगे चुनाव के नतीजे: जयंत

लखनऊ। विधानसभा चुनाव 2022 में सपा के साथ गठबंधन कर मैदान में उतरे राष्ट्रीय लोकदल को भी एग्जिट पोल हजम नहीं हो पा रहा है। 33 सीट पर अपने प्रत्याशी उतारने वाले राष्ट्रीय लोकदल के प्रमुख जयंत चौधरी एग्जिटपोल से सहमत नहीं हैं।
पूर्व सांसद जयंत चौधरी ने कहा कि जितने भी टीवी चैनल के एग्जिट पोल हैं, ये एक राय है। मैं तो इससे सहमत नहीं हूं। हमने इस बार के चुनाव में जो भी उत्साह देखा, उसमें लोगों के अंदर परिवर्तन लाने के लिए एक निश्चय था। मुझे लगता है उत्तर प्रदेश में नजीते सर्वे से अलग होंगे। प्रदेश में सपा गठबंधन की सरकार बनेगी, इसमें कोई संदेह नहीं है।
सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव ने भी टीवी चैनलों की भविष्यवाणी को खारिज करते हुए कहा था कि उन्हें जो दिखाना हो दिखाने दीजिए। हम बहुमत से जीत रहे हैं। एग्जिट पोल आने से पहले सोमवार को अखिलेश यादव ने एक मीडिया चैनल से हुई बातचीत के दौरान दावा किया कि हम इस बार 300 से ज्यादा सीटों पर जीत दर्ज करने जा रहे हैं। हम प्रदेश में 300 से ज्यादा सीटों के साथ सरकार बनाने जा रहे हैं। उन्होंने प्रचार के दौरान झूठ और नकली डेटा पेश करने के लिए भाजपा पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि लोगों ने इसे महसूस किया और मुद्रास्फीति बेरोजगारी के खिलाफ और विकास और अपने भविष्य को देखते हुए वोट किया। अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि सातवें और निर्णायक चरण में सपा-गठबंधन की जीत को बहुमत से बहुत आगे ले जाने के लिए सभी मतदाताओं और विशेषकर युवाओं का बहुत-बहुत आभार। हम सरकार बना रहे हैं। उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर एग्जिट पोल्स के बीच अखिलेश यादव ने कहा कि हम सरकार को बना रहे हैं।
समाजवादी पार्टी ने उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव 2022 में पहली बार छोटे दलों के साथ गठबंधन किया है। इनके साथ राष्ट्रीय लोकदल, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी, अपना दल कमेरावादी, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया तथा महानदल का गठबंधन है।