पुलिस की हुड़दंगियों को चेतावनी, मतगणना में गड़बड़ी फैलाने की कोशिश की तो होगी कठोर कार्रवाई

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव-2022 की मतगणना कल यानी 10 मार्च को होनी है। यूपी पुलिस ने इसके लिए बड़े पैमाने पर तैयारी की है। प्रदेश के एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार ने यूपी पुलिस की तैयारियों की जानकारी देते हुए हुड़दंगियों को चेतावनी दी है कि मतगणना के दौरान गड़बड़ी फैलाने की कोशिश की तो कठोर कार्रवाई की जाएगी।
एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि मतगणना के लिए सिविल पुलिस के 70 हजार कर्मचारी, 245 कंपनी अद्र्ध सैनिक बल और पीएसी की 69 कंपनी पीएससी तैनात की गई है। उन्होंने कहा कि मतगणना के दौरान कोई भी व्यक्ति अव्यवस्था या हुड़दंग करने की कोशिश करेगा तो उसके विरुद्ध कठोर से कठोर कार्रवाई की जाएगी।
सुबह आठ बजे शुरू होगी मतगणना
केन्द्रीय चुनाव आयोग के निर्देश के अनुसार गुरुवार को सुबह आठ बजे मतगणना शुरू होगी। सबसे पहले पोस्टल बैलेट व सर्विस वोट की गिनती शुरू होगी, इसके आधे घंटे बाद ही इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों की कण्ट्रोल यूनिट में दर्ज हुए वोटों की भी गणना शुरू हो जाएगी। अनुमान है कि सुबह 10 बजे से 11 बजे के बीच शुरुआती रुझान आना शुरू हो जाएंगे। चूंकि इस बार पोस्टल बैलेट काफी ज्यादा तादाद में पड़े हैं इसलिए हर सीट के अंतिम परिणाम की घोषणा में देर हो सकती है।
पुलिस कमिश्नर और डीएम ने ईवीएम स्ट्रॉन्ग रूम की सुरक्षा परखी
मतगणना की तैयारियां देखने और ईवीएम स्ट्रॉन्ग रूम की सुरक्षा देखने मंगलवार को लखनऊ के पुलिस कमिश्नर और डीएम रमाबाई आम्बेडकर रैली स्थल पहुंचे। दोनों अधिकारियों ने सुरक्षा व्यवस्था देखने के साथ मतगणना स्थल का निरीक्षण किया। जिला निर्वाचन अधिकारी डीएम अभिषेक प्रकाश ने बताया कि स्ट्रॉन्ग रूम और मतगणना स्थल की सुरक्षा की जिम्मेदारी सीआईएसएफ संभाल रही है। पूरे परिसर की निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरों की व्यवस्था की गई है।
राजनीतिक दल और प्रत्याशी भी स्ट्रॉन्ग रूम और परिसर की सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के जरिये निगरानी कर सकते हैं। डीएम ने बताया कि मतगणना के लिए विधानसभा के आधार पर नौ कमरे आवंटित किए गए हैं जहां वोटों की गिनती होगी। इनकी तैयारियां पूरी हो गई हैं। मतगणना वाले दिन किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए परिसर में चिकित्सा कैम्प, एम्बुलेंस और अग्निशमन गाड़ी की व्यवस्था को भी सुनिश्चित किया गया है। उक्त के अतिरिक्त मतगणना स्थल पर मीडिया सेंटर और कंट्रोल रूम भी बनाया गया है।