अयोध्या में भाजपा को लगेगा झटका एक सीट पर सेंधमारी करती दिख रही सपा

अयोध्या। श्रीराम नगरी अयोध्या में 5 में से 4 सीटों पर भारतीय जनता पार्टी आगे चल रही है जबकि एक सीट पर समाजवादी पार्टी बढ़त बनाए हुए है। अयोध्या की प्रतिष्ठा परक अयोध्या सीट पर भाजपा के वेद प्रकाश गुप्त बढ़त बनाए हुए हैं। उनके मुकाबले समाजवादी पार्टी के तेज नारायण पांडे पवन पीछे चल रहे हैं। गोसाईगंज विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी के अभय सिंह भाजपा की आरती तिवारी से आगे चल रहे हैं। बीकापुर सीट पर भाजपा के अमित सिंह आगे हैं। मिल्कीपुर सीट पर भाजपा के गोरखनाथ बाबा बढ़त बनाए हुए हैं। उधर, रुदौली सीट पर भाजपा के रामचंद्र यादव अभी तक आगे चल रहे हैं।
श्रीराम की जन्म भूमि आयोध्या नगरी भाजपा का गढ़ कहा जाता है। 2017 में पांचों सीटों कब्जा करने वाली बीजेपी इस बार में एक पीछे चल रही है। सपा शुरुआती रूझान में सपा के प्रत्याशी अजय बढ़त बनाए हुए हैं। ऐसे में सपा एक सीट पर सेंध लगा रही है।
जातीय समीकरण
2017 में अयोध्या में कुल 49.20 प्रतिशत वोट पड़े थे। 2017 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी से वेद प्रकाश गुप्ता ने समाजवादी पार्टी के तेज नारायण पांडे उर्फ पवन पांडे को 50440 वोटों के अंतर से हराया था। इस विधानसभा क्षेत्र में कुल मतदाताओं की संख्या 3,79,633 है। इसमें से करीब 50 हजार ब्राह्मण, 22 हजार वैश्य, 22 हजार कायस्थ, 22 हजार निषाद वोटर हैं, जबकि यादवों की संख्या 40 हजार और 18 हजार कुर्मी, 27 हजार मुस्लिमों की संख्या है।