साधु की गला काटकर हत्या, दो वर्ष पूर्व भी हुआ था हमला

गोरखपुर पीपीगंज थाना क्षेत्र के ग्राम सभा जंगल अगही टोला सहजुआ में झोपड़ी में रह रहे 70 वर्षीय साधू की बीती रात बदमाशों ने गला काटकर हत्या कर दी। घटना की सूचना पाकर मौके पर पीपीगंज पुलिस भी पहुंच गई है। घटना की जांच के लिए डॉग स्क्वाड व फॉरेंसिक टीम को भी बुला लिया गया है। टीम एक-एक बिंदु की गंभीरता से जांच कर रही है। साधू पर दो वर्ष पूर्व भी जानलेवा हमला हुआ था। हालांकि पुलिस ने उसे गंभीरता से नहीं लिया था। उसकी देन है, अभी तक हमलावर पकड़े नहीं जा सके हैं।
सहजुआ निवासी साधू हंसराज घर से दूर खेत में अपनी कुटी बनाकर रहते थे। रात वह खाना खाकर झोपड़ी में सो गए। सुबह जब स्वजन उनके पास पहुंचे दो देखा उनकी गला काटकर हत्या की गई है। बिस्तर पर खून से सना उनका शव पड़ा हुआ है। थोड़ी देर में घटना की जानकारी पाकर वहां अन्य ग्रामीण भी पहुंच गए। सीओ कैम्पियरगंज अजय कुमार सिंह व पीपीगंज थानाध्यक्ष दुर्गेश सिंह भी मौके पर पहुंच गए। मौके पर डॉग स्क्वाड व फॉरेंसिक टीम को भी बुलवा लिया गया। पुलिस के मुताबिक हंसराज की तीन पुत्रियां व एक पुत्र है। कुछ दिन पूर्व उन्होंने अपनी चार बीघे भूमि अपनी बहू के नाम लिखी है। पुलिस इसे भूमि विवाद से भी जोड़ कर देख रही है। इसके एक मंदिर पर रहने को लेकर हंसराज का कुछ लोगों से विवाद चल रहा था। पुलिस उसकी भी छानबीन कर रही है।