सपा विधायक खातून के समर्थकों पर धार्मिक उन्माद फैलाने का आरोप, केस दर्ज

 

सिद्धार्थनगर। डुमरियागंज सीट से भाजपा प्रत्?याशी राघवेंद्र प्रताप सिंह के खिलाफ सपा के टिकट पर जीत हासिल करने वाली सैयदा खातून के 15 समर्थकों पर आपत्तिजनक नारेबाजी और धार्मिक उन्माद फैलाने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है। वहीं सैयदा खातून सहित 250 लोगों पर धारा 144 के उल्लंघन का केस दर्ज हुआ है। इस आशय का वीडियो वायरल होने के बाद डुमरियागंज पुलिस ने यह कार्रवाई की है। एसएसआई रमाकांत सरोज ने थाने में तहरीर दी है। इसके मुताबिक रात गश्त के दौरान सपा कार्यालय पर नारेबाजी हो रही थी। पहुंच कर मना किया गया लेकिन कोई माना नहीं। उनसे बताया भी गया कि धारा 144 लगी है और इस तरह गतिविधि नहीं की जा सकती है। एसएसआई की तहरीर के आधार पर पुलिस ने रात में ही सपा से चुनाव जीतने वाली सैयदा खातून समेत 250 अज्ञात सपा समर्थकों पर धारा 144 के उललंघन के आरोप में धारा 188 व 143 के तहत केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई थी। इस बीच वहीं का एक वीडियो वायरल हुआ, जो गुरुवार रात का ही बताया जा रहा है। इसमें कुछ उन्मादी नारेबाजी के दौरान धार्मिक उन्माद फैलाने जैसे नारे लगाए जा रहे हैं। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने 15 लोगों को चिह्नित कर शुक्रवार को उन पर धारा 143, 153 (ए), 188 व 505 (2) के तहत केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।
इस बाबत एसपी डॉ यशवीर सिंह ने कहा कि डुमरियागज से जीती सैय्यदा खातून सहित ढाई सौ अज्ञात के खिलाफ डुमरियागंज थाना में धारा 144 उल्लंघन संबंधी केस दर्ज किया गया था। शुक्रवार को उन्हीं में से 15 लोगों को चिन्हित कर धार्मिक उन्माद फैलाने का भी केस दर्ज किया गया है।

 

आपके लिए खास
योगी सरकार के मंत्रियों के खिलाफ दिखा गुस्सा, 2-4 नहीं पूरे 10 हारे
योगी सरकार के मंत्रियों के खिलाफ दिखा गुस्सा, 2-4 नहीं पूरे 10 हारे
इस न्यू लिस्टेड स्टॉक पर एनालिस्ट हैं फिदा, 800 रु के पार जाएगा शेयर
इस न्यू लिस्टेड स्टॉक पर एनालिस्ट हैं फिदा, 800 रु के पार जाएगा शेयर
धामी फिर बनेंगे उत्तराखंड के ष्टरू? रूरु्र मेहरा छोड़ सकते हैं जागेश्वर सीट
धामी फिर बनेंगे उत्तराखंड के ष्टरू? रूरु्र मेहरा छोड़ सकते हैं जागेश्वर सीट
कांग्रेस की इस मॉडल प्रत्याशी के खूब हुए चर्चे, जानें कितने मिले वोट
कांग्रेस की इस मॉडल प्रत्याशी के खूब हुए चर्चे, जानें कितने मिले वोट
जिले से मैं जीत का प्रमाणपत्र लेने के बाद देर रात अपने कार्यालय पहुंची। नारा से संबंधित जो बातें हैं उस समय मैं मौके पर नहीं थी। कार्यालय संबंधी जो भी वीडियो वायरल हो रहा है उसको एडिट करके मुझे बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। जीतने के बाद क्षेत्र में शांति व सौहार्द्र बनाए रखना मेरी प्राथमिकता है।
सैयदा खातून, नव निर्वाचित विधायक