अपने ही डुबो रहे कांग्रेस की नइया

पार्टी के लिए किसी गांव तक में नहीं गए बड़े नेता

 

 

नई दिल्ली।उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों में करारी हार झेलने वाली कांग्रेस में अब आतंरिक कलह मच गई है। एक अखबार से बातचीत में कांग्रेस के सीनियर नेता कपिल सिब्बल ने इस हार के लिए गांधी परिवार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा था कि उन्हें किसी और नेता को कमान देनी चाहिए। यही नहीं राहुल गांधी पर सीधा अटैक करते हुए कपिल सिब्बल ने कहा था कि वह पार्टी के अध्यक्ष नहीं हैं, लेकिन अब भी सारे फैसले वही लेते हैं। कपिल सिब्बल ने कहा था कि अब वक्त आ गया है कि कांग्रेस में आमूलचूल परिवर्तन किया जाना चाहिए। हालांकि उनकी सलाह पार्टी के कई नेताओं को नागवार गुजरी है। पार्टी के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खडग़े ने कपिल सिब्बल पर पलटवार करते हुए कहा है कि वह एक अच्छे नेता नहीं रहे हैं। खडग़े ने कहा कि कपिल सिब्बल एक अच्छे वकील हो सकते हैं, लेकिन कांग्रेस पार्टी के लिए बढिय़ा नेता नहीं हैं। मल्लिकार्जुन खडग़े ने सिब्बल पर तीखा हमला बोलते हुए कहा, वह कभी कांग्रेस के काम के लिए किसी गांव तक में नहीं गए। वह जानबूझकर पार्टी को कमजोर करने का काम कर रहे हैं। कोई भी सोनिया गांधी और कांग्रेस को कमजोर नहीं कर सकता है। बता दें कि 5 राज्यों में करारी हार के बाद से कांग्रेस में हलचल मची है। अब सोनिया गांधी ने पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू समेत 5 राज्यों के नेताओं से इस्तीफे मांग लिए हैं। नवजोत सिंह सिद्धू तो पद से इस्तीफा भी दे चुके हैं। पूर्वांचल और यूपी संभालने वाले अजय लल्लू ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। कांग्रेस में अगस्त महीने में संगठन के चुनाव होने वाले हैं। माना जा रहा है कि उस दौरान कुछ और बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं।