सीएम योगी की दीवानगी: जयपुर से पैदल चले आए मामचंद

गृहस्थ जीवन से संयास की ओर बढऩा चाहते हैं

 

गोरखपुर। गोरक्षपीठाधीश्वर एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रति निष्ठा रखने वाले राजस्थान के जयपुर निवासी मामचंद आनंद पैदल ही उनसे मिलने गोरखनाथ मंदिर पहुंच गए। मामचंद नाथपंथ और योगी आदित्यनाथ से बेहद प्रभावित हैं। वह नाथपंथ में शामिल होकर अध्यात्म के मार्ग पर चलने के लिए योगी का मार्गदर्शन चाहते हैं। जयपुर के रहने वाले मामचंद आनंद, पेशे से वाहन चालक हैं। मामचंद, तीन बच्चों के पिता हैं और अब गृहस्थ से सन्यास जीवन की ओर बढक़र अध्यात्म के गूढ़ रहस्यों को समझना चाहते हैं। उनका कहना है कि शिवावतारी गुरु गोरक्षनाथ द्वारा प्रवर्तित नाथपंथ उन्हें खासा प्रभावित करता है। कारण कि इस पंथ का ध्येय लोक कल्याण है। वर्तमान में गोरखनाथ मंदिर के पीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री के रूप में भी पंथ के ध्येय को पूरा कर रहे हैं। मामचंद ने बताया कि वह जयपुर से पैदल इसलिए चल पड़े कि वह अपने नए साधना पथ के प्रति समर्पण दिखा सकें। मामचंद को उम्मीद है कि योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के बाद उनके जीवन में नई दिशा दिखाई देगी।