परीक्षा निरीक्षक ने दी हिजाब वाली छात्राओं को एंट्री, कम से कम सात सस्पेंड

 

बेंगलुरु। कर्नाटक के उडुपी में एक कॉलेज से शुरू हुआ हिजाब विवाद अब खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। राज्य में एसएसएलसी की परीक्षा के दौरान कम से कम 7 टीचर्स को सस्पेंड कर दिया गया। आरोप है कि वे हिजाब पहनने वाली छात्राओं को परीक्षा हॉल में जाने की अनुमति दे रहे थे। बुधवार को प्राइमरी ऐंड सेकंड्री एजुकेशन मिनिस्टर बीसी नागेश ने कहा था, मुझे जानकारी है कि तीन परीक्षा निरीक्षकों को सस्पेंड किया गया है। अगर सस्पेंड होने वाले लोगों की संख्या सात हो गई है तो उसके पीछे वजह हिजाब नहीं है। इसके पीछे सरकारी नियमों के उल्लंघन से जुड़े अन्य कारण हो सकते हैं। बता दें कि कर्नाटक हाई कोर्ट ने कहा था कि इस्लाम में हिजाब को जरूरी नहीं बताया गया है। इसलिए स्कूल और कॉलेजों को अपने ड्रेस कोड लागू करने का अधिकार है और उनका पालन किया जाना चाहिए। इसी क्रम में इस बार एसएसएलसी की पीक्षा में हिजाब के साथ शामिल होने की अनुमति नहीं है।