हमले के बाद गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा बढ़ी, हमलावर पर केस दर्ज

 

गोरखपुर। गोरखनाथ मंदिर पर तैनात पीएसी जवानों पर हमले के बाद गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा व्?यवस्था पहले से कहीं ज्?यादा कड़ी कर दी गई है। आज सुबह से मंदिर में जाने वालों को कड़ी सुरक्षा जांच से गुजरना पड़ रहा है। इस बीच हमलावर अहमद मुर्तुजा अब्बासी के खिलाफ हत्?या के प्रयास और आर्म्?स एक्?ट के तहत दो अलग-अलग मुकदमे दर्ज कर लिए गए हैं।
एसएसपी विपिन टाडा ने बताया है कि घटना में दो पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। आरोपी मुर्तुजा को भी चोटें आई हैं। उन्?होंने कहा कि आरोपी के हमले को पुलिसकर्मियों ने नाकाम कर दिया। विवार की देर शाम गोरखनाथ मंदिर मुख्य द्वार पर सुरक्षाकर्मी तैनात थे। तब वहां 20वीं बटालियन पीएसी के दो जवान गोपाल गौंड़ और अनिल पासवान ड्यूटी पर थे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक अहमद मुर्तुजा अब्बासी हाथ में बैग लिए गोरखनाथ मंदिर के मुख्य गेट पर पहुंचा। उसने कुर्सी पर बैठे पीएसी जवानों से धक्कामुक्की शुरू कर दी। फिर अचानक उसने बैग से कपड़े में लपेटकर रखी बांकी (धारदार हथियार) निकाली और ताबड़तोड़ प्रहार करने लगा। हमलावर ने सीधे पीएसी जवानों पर हमला बोला। इस दौरान उसने धार्मिक नारे भी लगाए। उसने धारदार हथियार से प्रहार कर गोपाल गौंड़ और अनिल पासवान को घायल कर दिया और लगातार हमले कर रहा था। यही नहीं, जिसे देखता, उसी की तरफ दौड़ पड़ता था।
दर्ज किए गए मुकदमें
आरोपी मुतुर्जा के खिलाफ गोरखनाथ थाने में दो मुकदमे दर्ज किए गए हैं। पहला मुकदमा कॉन्स्टेबल विनय कुमार मिश्र की तहरीर पर धारा 186, 153, 307, 332, 333, 353, 394 आईपीसी और 7 सीएलए के तहत दर्ज किया गया है। जबकि दूसरा मुकदमा 4/25 आर्म्स एक्ट का दर्ज हुआ है।