गोरखनाथ मंदिर हमला: मुर्तजा ने डिलीट कर दिया था मोबाइल का डेटा

गोरखपुर। गोरखनाथ मंदिर में तैनात पीएसी जवानों पर हमले के आरोपी मुर्तजा ने अपने मोबाइल का डेटा डिलीट कर दिया था। लि?हाजा वह किस-किसके संपर्क में था और किस-किससे बात करता था यह जानने के लिए पुलिस अब उसका सीडीआर (काल डिटेल रिकॉर्ड) निकलवा रही है। उधर, उसके लैपटॉप पर जाकिर नाइक के भाषणों और सीरिया का वीडियो मिलने के बाद आशंका जताई जा रही है कि मुर्तजा आईएसआईएस जैसे किसी आतंकी संगठन की विचारधारा से पीडि़त था। पुलिस पहले ही कह चुकी है गोरखनाथ मंदिर में किसी बड़ी वारदात की प्?लानिंग थी। सूत्रों के मुताबिक पुलिस को ऐसा लग रहा है कि उस प्?लानिंग को अंजाम दिए जाने से पहले ही अवसाद में मुर्तजा ने गोरखनाथ मंदिर पर तैनात पीएसी जवानों पर हमला कर दिया।
मुख्?यमंत्री योगी आदित्?यनाथ के निर्देश पर इस मामले की जांच यूपी एटीएस कर रही है। यूपी एसटीएफ भी इसमें सहयोग कर रही है। बताया जा रहा है कि सात दिन के रिमांड पर लेने के बाद एटीएस किसी अज्ञात स्?थान पर मुर्तजा से लगातार पूछताछ कर रही है। इस दौरान उसे अपनी बाइक से गोरखनाथ मंदिर तक पहुंचाने वाले उसके दो दोस्?तों को भी पकड़ लिया गया है। उनसे भी पूछताछ चल रही है। उधर, सूत्रों का कहना है कि जांच के दौरान मुर्तजा के लैपटॉप में जहां कई वीडियो मिले वहीं उसके मोबाइल का पूरा डेटा डिलीट किया जा चुका था। अब सीडीआर की मदद से पता लगाया जाएगा कि मुर्तजा किस-किस के सम्?पर्क में था।