रूस-यूक्रेन युद्ध पर दो खेमों में बंटी दुनिया, भारत ने लिया अपना स्टैंड: मोदी

नई दिल्ली। रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार यानी 6 अप्रैल को कहा कि भारत के मजबूत स्वतंत्र रुख ने उसे बिना किसी वैश्विक दबाव के अपने राष्ट्रीय हितों को प्राथमिकता देने की अनुमति दी है। रूस-यूक्रेन युद्ध की ओर इशारा करते हुए उन्होंने कहा, ऐसे समय में जब दुनिया दो खेमों में विभाजित है। भारत मानवता के लिए एक स्वतंत्र रुख अपना सकता है। भारत ने अपने राष्ट्रीय हितों को सबसे आगे रखा है। पीएम मोदी ने भाजपा के 42 वें स्थापना दिवस पर कहा, इस साल का स्थापना दिवस तीन कारणों से बहुत महत्वपूर्ण हो गया है। पहला हम स्वतंत्रता के 75 वर्ष मना रहे हैं। यह प्रेरणा का एक प्रमुख अवसर है। दूसरा, तेजी से बदलती वैश्विक स्थिति। भारत के लिए लगातार नए अवसर सामने आ रहे हैं।
पीएम मोदी ने कहा, यह भारत की आजादी के 75वें वर्ष का अमृतकल है। इसलिए हमें स्थानीय उत्पादों को वैश्विक पैमाने पर ले जाने और सामाजिक न्याय सुनिश्चित करने की आवश्यकता है। इस दिशा में काम करते हुए भाजपा अपने एक भारत, श्रेष्ठ भारत के आदर्श वाक्य को लगातार मजबूत कर रही है। उन्होंने आगे कहा कि भारत 100 साल में सबसे बड़े वैश्विक खतरे के बीच समाज के गरीब तबके के 80 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन मुहैया करा रहा है। उन्होंने कहा, केंद्र यह सुनिश्चित करने के लिए लगभग 3.5 लाख करोड़ खर्च कर रहा है कि कोई भी भारतीय भूखा न सोए। पीएम मोदी ने बीजेपी के नेतृत्व वाली सरकार के सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के मंत्र को दोहराया