जालंधर से भटक कर बस्ती पहुंचे बालक को परिजनों को सौंपा

बस्ती। पंजाब प्रांत स्थिति जालंधर के ट्रांसपोर्ट नगर थाना क्षेत्र के सोडल नगर निवासी एक 11 वर्षीय बालक भटक कर बस्ती पहुंच गया। ट्रेन से आए बालक को जीआरपी ने चाइल्ड लाइन के माध्यम से सीडब्लयूसी बस्ती के न्यायालय में प्रस्तुत किया। सीडब्लयूसी के अध्यक्ष प्रेरक मिश्रा ने जालंधर पुलिस से संपर्क कर बच्चे के दादा एवं दादी को बुला कर मंगलवार को लिखा पढ़ी के बाद सौंप दिया। बिछड़े बालक को पाकर परिजन खुशी से झूम उठे। चेयरपर्सन सीडब्लूसी प्रेरक मिश्र ने बताया कि बालक के माता-पिता दोनों का निधन हो चुका है। बालक अपने दादा रवि कुमार के साथ रहता है। 28 मार्च को वह शाम के समय फुटबॉल खेलने घर से निकला था। गोरखपुर जाने वाली ट्रेन पर चढ़ गया। बस्ती पहुंचने पर जीआरपी ने बच्चे को अकेला देख कर जानकारी ली तो पता चला कि यह बालक गलती से यहां तक पहुंच गया है। जीआरपी ने तत्परता दिखाते हुए बच्चे को पकड़ कर चाइल्ड लाइन को सौंप दिया। चाइल्ड लाइन ने बच्चे को 31 मार्च को सीडब्लयूसी के सामने प्रस्तुत किया था।
सीडब्लयूसी के आदेश पर बच्चे का मेडिकल करवा कर उसकी काउंसलिंग शुरू की गई। बालक के बस्ती में पाए जाने की सूचना पाकर उसके दादा और दादी सीडब्लयूसी के सामने प्रस्तुत हुए। उन्होंने बताया कि बालक कुछ माह से मानसिक रूप से कमजोर हो गया है। इसके गायब होने की सूचना मुकामी थाने को भी दी गई है। बालक के दादा की बात सुनकर सीडब्लयूसी के चेयर पर्सन प्रेरक मिश्रा, सदस्य अजय श्रीवास्तव, संतोष श्रीवास्तव, गोवर्धन गुप्ता, मंजू त्रिपाठी की टीम ने आवश्यक कार्यवाही के बाद बालक को दादा रवि कुमार को सौंपते हुए निर्देश दिया कि इसे जालंधर की सीडब्लयूसी के सामने प्रस्तुत कर अग्रिम आदेश प्राप्त करें।