हिजबुल्लाह या इस्लामिक स्टेट का मेंबर हो सकता है गोरखनाथ मंदिर का हमलवार: पूर्व लेफ्टिनेंट जनरल

 

नई दिल्ली। गोरखनाथ मंदिर पर हमला करने की कोशिश करने वाला अहमद मुर्तजा अब्बासी आतंकी संगठन हिजबुल्लाह या फिर इस्लामिक स्टेट का सदस्य हो सकता है। रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल अभय कृष्ण ने यह आशंका जताई है। उन्होंने कहा कि जिस तरह अहमद मुर्तजा अब्बासी ने चाकू से गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों पर हमला किया था, वह मध्य पूर्व के आतंकी संगठनों का तरीका है। उन्होंने कहा कि इजरायल में इस तरह के हमले हमास जैसे आतंकी संगठन अकसर अंजाम देने की कोशिश करते रहे हैं। ऐसे हमलों में एक से दो लोग ही घटना को अंजाम देते हैं। भारतीय सेना की दक्षिण-पश्चिम, पूर्वी और सेंट्रल कमांड्स के कमांडिंग चीफ रह चुके अभय कृष्ण ने कहा कि अभी यह कहना जल्दबाजी होगा कि मुर्तजा मध्य पूर्व के किसी आतंकी मॉड्यूल का हिस्सा है। लेकिन इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि भविष्य में आतंकी संगठन ऐसे ट्रेंड को फॉलो कर सकते हैं। इंडिया टुडे से बातचीत में अभय कृष्ण ने कहा, इस बात की संभावना है कि उसे ऑनलाइन रैडिकलाइज किया गया हो। जैसे इस्लामिक स्टेट या फिर हिजबुल्लाह की ओर से उसकी डिजिटल रिक्रूटमेंट कराई गई हो। उन्होंने कहा कि इन आतंकी संगठनों के लिए मुर्तजा एक आसान टारगेट हो सकता है।
भविष्य में भी हो सकते हैं ऐसे आतंकी हमले
उन्होंने कहा कि ये आतंकी संगठन आजकल दहशतगर्दों की ऑनलाइन भर्ती करते हैं और उन्हें वर्चुअल प्लॉटर जैसा नाम दिया जाता है। उन्हें ऑनलाइन ही ट्रेनिंग दी जाती है, उकसाया जाता है और फंडिंग तक की जाती है। उन्होंने कहा कि इस बात की भी संभावना है कि आतंकी संगठनों ने कुछ और लोगों को ऑनलाइन ही प्रभावित किया हो। भविष्य में इसी तरह से वे कुछ और ठिकानों पर हमले की कोशिश कर सकते हैं। ऐसे ही हमले हिजबुल्लाह भी इजरायल के ऊपर करता रहा है। अब तक सामने आईं रिपोर्ट्स के मुताबिक आरोपी मुर्तजा प्रतिबंधित मजहबी प्रचारक जाकिर नाईक के भाषणों से प्रभावित रहा है। इसके अलावा मुर्तजा के इस्लामिक स्टेट से लिंक भी बताए जा रहे हैं।

आईआईटी का ग्रैजुएट है अहमद मुर्तजा

उन्होंने कहा कि हाल ही में देश में हिजाब विवाद और द कश्मीर फाइल्स मूवी की काफी चर्चा रही है। ऐसे में इस बात की भी संभावना है कि मुर्तजा ने उनके चलते रिएक्शन में आकर इस तरह का हमला किया हो। गौरतलब है कि अहमद मुर्तजा अब्बासी की बैकग्राउंड के बारे में जानकर एजेंसियां भी हैरान हैं। वह आईआईटी का ग्रैजुएट रहा है। ऐसे में एक नामी संस्थान से पढक़र उसका दहशतगर्दी की राह में जाना हैरान करने वाला है। माना जा रहा है कि वह ऑनलाइन गतिविधियों में काफी सक्रिय था और इसी माध्यम से वह आतंकी संगठनों के संपर्क में आया होगा।