आयुष विवि के निर्माण कार्य में सुस्ती पर सीएम योगी अफसरों पर बिफरे

 

गोरखपुर। सीएम योगी आदित्यनाथ आज अधिकारियों को चेताया कि काम में लापरवाही क्षम्य नहीं है। दोषी मिलने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। शुक्रवार को सीएम योगी भटहट के पिपरी में निर्माणाधीन सूबे के पहले महायोगी गुरु गोरखनाथ आयुष विश्वविद्यालय परिसर में निर्माण कार्यों का जायजा लेने के बाद समीक्षा बैठक कर रहे थे। तीन दिवसीय दौरे पर आज शाम करीब 5 बजे मुख्यमंत्री का हेलिकाप्टर सीधे निर्माणाधीन आयुष विश्वविद्यालय परिसर में हेलीपैड पर उतरा। पहले उन्होंने निर्माण कार्यों का स्थलीय निरीक्षण किया। मौके पर उन्होंने विश्वविद्यालय के मॉडल का अवलोकन किया। इसके बाद सीएम ने परिसर में ही जिले के अधिकारियों के साथ आयुष विश्वविद्यालय और फर्टिलाइजर परिसर में बन रहे सैनिक स्कूल समेत अन्य बड़ी परियोजनाओं की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को चेताया कि दो माह में मिट्टी संबंधित कार्य नहीं हुआ तो जिम्मेदारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने नाराजगी जताई कि मानसून सीजन आने वाला है। काम की रफ्तार काफी सुस्त है। कार्यदायी संस्था विजय निर्माण कंपनी के प्रोजेक्ट संयोजक मनोज गुप्ता से पूछा कि कितने आदमी लगाए हो। उन्होंने बताया कि 95 श्रमिक लगे हैं तो योगी ने कहा कि इतने से कैसे काम चलेगा। उन्होंने चेताया कि समय से कार्य नहीं हुआ तो कार्रवाई होगी। 5.10 बजे वे हेलिपैड की ओर रवाना हो गए। वहां से महायोगी गुरु गोरखनाथ विश्वविद्यालय के दौरे पर चले गए।