पीसीबी को जोरदार झटका, राजा के प्रस्ताव को आइसीसी ने किया खारिज

नई दिल्ली। दुबई में संपन्न हुई दो दिवसीय बोर्ड की बैठक बीसीसीआइ के लिए अच्छी रही तो वहीं पाकिस्तान के लिहाज से निराशाजनक। बीसीसीआई के सचिव जय शाह आइसीसी की क्रिकेट समिति में शामिल किया गया जबकि इस बैठक में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अध्यक्ष रमीज राजा के चार देशों के टूर्नामेंट के प्रस्ताव को बोर्ड द्वारा सर्वसम्मति से खारिज कर दिया गया। इससे तटस्थ स्थलों पर भारत बनाम पाकिस्तान के मैचों की संभावना पर विराम लग गया। अन्य उल्लेखनीय घटनाक्रम में बीसीसीआइ सचिव जय शाह को आइसीसी की क्रिकेट समिति में शामिल किया गया। आइसीसी के अगले अध्यक्ष के रूप में शाह का नाम चर्चा में है, लेकिन न तो खुद बीसीसीआइ सचिव और न ही उनके करीबी सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है। बैठक में पीसीबी अध्यक्ष रमीज की योजना को ज्यादा तवज्जो नहीं मिली। राजा ने आइसीसी के तत्वावधान में पाकिस्तान, भारत, आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड को शामिल करते हुए चार देशों के वार्षिक टी-20 या वनडे टूर्नामेंट के लिए श्वेत पत्र तैयार किया था। उनका मानना है कि इससे वैश्विक निकाय को पांच साल में 750 करोड़ डालर (लगभग 57 अरब रुपये) का राजस्व मिल सकता है, जिसका बड़ा हिस्सा इन चारों देशों को दिया जा सकता है।भारत, पाकिस्तान के खिलाफ सिर्फ एशिया कप और विश्व कप जैसे कई देशों वाले टूर्नामेंट में ही खेलता है।