बैंककर्मी और दोस्त ने युवती को बंधक बनाकर किया गैंगरेप

झांसी। झांसी की पॉश कॉलोनी में बैंककर्मी और उसके दोस्त ने मारपीट कर युवती को फ्लेट में बंधक बनाकर उसके साथ गैंगरेप किया। किसी तरह युवती घर पहुंची और फिर परिजनों के साथ थाने गई। आरोपी बैंककर्मी ने बचने के लिए फ्लेट के बाहर ताला लगवा लिया। पुलिस ने ताला तोडक़र बैंककर्मी को अरेस्ट कर लिया है। जबकि उसका साथी फरार है। दोनों के खिलाफ कोतवाली थाना पुलिस ने केस दर्ज करके मामले की जांच शुरू कर दी है।
कोतवाली थाना इलाके में रहने वाली एक 19 वर्षीय लडक़ी और उसकी सहेली की शहर की पॉश कालोनी अजय एनक्लेव निवासी अभिषेक गुप्ता और उसके दोस्त मोंठ अखाड़ापुरा निवासी ओमप्रकाश से जान पहचान है। रविवार को चारों इलाइट चौराहे की तरफ घूमने के लिए गए थे। वहां से सहेली घर चली गई, जबकि अभिषेक और ओमप्रकाश किसी बहाने से 19 साल की पीडि़ता को अपने फ्लेट पर ले गए। रात को जब उसने घर जाने के लिए कहा तो मारपीट कर उसको घर में बंधक बना लिया। इसके बाद दोनों ने बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया।
सुबह घर जाकर बताई घटना
सोमवार सुबह किसी तरह आरोपियों के चुंगल से भागकर अपने घर पहुंची और परिजनों को घटना की जानकारी दी। इसके बाद वे लडक़ी को लेकर कोतवाली थाना पहुंचे और कोतवाल तुलसीराम पाण्डेय को घटना की जानकारी दी। उन्होंने मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल टीम बनाकर आरोपी के घर दबिश दी। दोनों लड़कियां 11वीं कक्षा में एकसाथ पढ़ती हैं।
पुलिस को चकमा देने की कोशिश
जब पीडि़ता को लेकर पुलिस मौके पर पहुंची तो अभिषेक गुप्ता के फ्लेट के बाहर ताला लगा था। पहले पुलिस को लगा कि आरोपी ताला लगाकर फरार हो गए। लेकिन फ्लेट के अंदर से आवाज आ रही थी। तब पुलिस ने कालोनी के सभ्रांत लोगों को बुलाकर उनकी मौजूदगी में ताला तुड़वाकर अभिषेक को गिरफ्तार कर लिया, जबकि दूसरा साथी फरार है। उसकी तलाश में दबिश दी जा रही है। पुलिस ने अभिषेक गुप्ता व ओमप्रकाश के खिलाफ आईपीसी की धारा 376, 323 व 342 के तहत मामला दर्ज कर लिया है।