नमस्कार, मै परिवहन मंत्री, कोई असुविधा तो नहीं

वाराणसी-प्रयागराज मार्ग पर बस रोक यात्रियों की समस्याओं को जाना परिवहन मंत्री

 

वाराणसी। नमस्कार मैं परिवहन मंत्री हूं.. कोई असुविधा तो नहीं है आप लोगों को सब ठीक हैं? सब के टिकट काटे हैं ना यह शब्द हैं प्रदेश सरकार के परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह के। दरअसल परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने मंगलवार को प्रयागराज-वाराणसी मार्ग पर संचालित हो रही परिवहन निगम की बसों को बीच में ही रोककर औचक निरीक्षण किया। अनुबंधित बस को रोककर उन्होंने यात्रियों को अपना परिचय दिया और फिर उसके बाद यात्रा के दौरान किसी प्रकार की दिक्कत और बस की सफाई को लेकर शिकायत के बारे में पूछा।
योगी 2.0 की सरकार बनने के बाद से ही उनके मंत्री तेवर में हैं। अपने-अपने विभागों में क्या कमी है और क्या बेहतर हो सकता है इसका काम करने में लगे हुए हैं। परिवहन विभाग की जिम्मेदारी योगी सरकार में दयाशंकर सिंह को मिली है। परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह लगातार परिवहन निगम की बसों में साफ-सफाई से लेकर रोडवेज स्टेशनों की व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी लेते नजर आ रहे हैं। आज प्रयागराज से वाराणसी के बीच उन्होंने परिवहन निगम की बसों को अचानक रुकवा दिया और यात्रियों से बसों में मिलने वाली सुविधाओं के बारे में पूछने लगे। वहीं चालक व परिचालक के ड्रेस में होने को लेकर चेतावनी देते हुए उन्होंने कड़ी फटकार भी लगाई।
परिवहन मंत्री ने ने यात्रियों से अपील की कि कहीं भी रोडवेज परिवहन निगम की कोई समस्या हो तो तत्काल परिवहन निगम की सरकारी ट्विटर पर ट्वीट करें ताकि उसे सुधारा जा सके। उन्होंने कहा कि ट्वीटर हैंटल पर ट्वीट कर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। परिवहन निगम से जुड़ी आपकी हर समस्या का समाधान किया जाएगा।
बिना वर्दी के दिखे तो खैर नहीं: बस रोकने के बाद यात्रियों से रूबरू हुए परिवहन मंत्री ने टिकट परिचालक से पूछा कि बस अनुबंधित है जवाब जी हां। कितने टिकट काटे हैं जवाब- 38। उन्होंने लोगों से पूछा कि सफाई हो रही है ना ड्राइवर से पूछा कि सैलरी मिल रही है और वर्दी के लिए कपड़ा नहीं मिलता है? दयाशंकर सिंह ने चेतावनी देते हुए कहा कि वर्दी के बिना चले तो ठीक नहीं है अपने मालिक से बता देना।
अंत में उन्होंने यात्रियों से खेद भी जताया: परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने यात्रियों से हुई असुविधा को लेकर खेद प्रकट करते हुए कहा कि आप का पांच मिनट का समय मैने लिया इसके लिए क्षमा चाहता हूं। मैंने बस इसीलिए रोका यहां पर देखना है कि सफाई हो रही है या नहीं।