सगाई तोडऩे वाले जिपं अध्यक्ष के बेटे को युवती ने मॉल में घेरा, हुआ हंगामा

गोरखपुर। सगाई तोडऩे के सवा साल बाद विजय चौक के एक मॉल में मिली लडक़ी और एक युवक के बीच कहासुनी हो गई। युवक के भागने पर युवती ने उसका कालर पकडक़र खींचना शुरू कर दिया। हंगामा बढऩे पर लोगों ने पुलिस को सूचना दी, लेकिन युवक भाग गया।
देवरिया के जिला पंचायत अध्यक्ष का बेटा है सर्वेश
युवक देवरिया के जिला पंचायत अध्यक्ष गिरीश चंद्र तिवारी का पुत्र सर्वेश तिवारी बताया जा रहा है। हंगामे का वीडियो भी वायरल हो रहा है, जिसमें युवती युवक पर नकली अंगूठी देने का आरोप लगा रही है। युवती ने जिला पंचायत अध्यक्ष और उनके बेटे के विरुद्ध धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए गोरखनाथ थाने में तहरीर दी है।
तहरीर के अनुसार गोरखनाथ क्षेत्र की रहने वाली युवती की सगाई देवरिया के जिला पंचायत अध्यक्ष गिरीश चंद्र तिवारी के बेटे से 21 फरवरी 2020 को हुई थी। सर्वेश लंदन की प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता है। युवती का आरोप है कि सर्वेश के जिला पंचायत अध्यक्ष पिता व माता की तबीयत खराब होने पर उनके घर जाकर सेवा भी की, लेकिन छह माह बाद उसने सगाई तोड़ दी।
स्काटलैंड की युवती से कर चुका है शादी
युवती का आरोप है कि? छानबीन से पता चला कि उसने स्काटलैंड की एक युवती से शादी की है। उसके दो बच्चे हैं। सर्वेश तीन सगाई तोड़ चुका है। 15 अप्रैल को गोपालगंज की युवती से सगाई होने वाली है, जिसके लिए खरीदारी करने वह मॉल आया था। युवती का आरोप लगाया है सर्वेश व उसके घरवालों ने शादी का झांसा देकर करीब 15 लाख रुपये की खरीदारी करा ली।
जिला पंचायत अध्यक्ष गिरीश चंद्र तिवारी का कहना है कि बेटे की कहीं शादी नहीं हुई है। युवती से सगाई हुई थी, जो टूट गई। उसके स्वजन से बात हो रही है। गोरखनाथ थाने के इंस्पेक्टर मनोज कुमार सिंह ने कहा कि युवती ने पिता-पुत्र के खिलाफ तहरीर दी है। आरोपों की जांच की जा रही है।