बस का सफर हुआ महंगा: एक से 10 रुपए तक महंगा हुआ रोडवेज बसों का टिकट

लखनऊ। दाल, सब्जी से लेकर ईंधन तक महंगाई की मार झेल रही जनता के लिए अब सफर करना भी आसान नहीं रहा। यूपी परिवहन निगम ने रोडवेज बसों के किराए में एक से 10 रुपए तक वृद्धि कर दी है। निगम का तर्क है कि टोल टैक्स बढऩे की वजह से यह बढ़ोत्तरी की गई है। उत्तर प्रदेश राज्य सडक़ परिवहन निगम ने कई रूटों पर बसों के किराए में बढ़ोतरी कर दी है। इससे अब रोडवेज बस से यात्रा करने वाले यात्रियों की जेब पर और भी भार बढ़ गया है। परिवहन निगम ने साधारण बसों में 100 किलोमीटर तक एक से डेढ़ रुपया और एसी बसों में 7 रुपए तक का इजाफा किया है। यह नया किराया मैनुअल टिकट पर यात्रियों से वसूला जाने लगा है।
बढ़े हुए किराए की फीडिंग शुरू, जल्द मिलेगा महंगा टिकट
इलेक्ट्रानिक टिकटिंग मशीनों में नए किराए के फीडिंग की जा रही है। लखनऊ रीजन के रीजनल मैनेजर पल्लव कुमार बोस ने बताया यात्रियों से बढ़े हुए दर पर किराया लेने के लिए मैनुअल टिकट बनाये जा रहे हैं। मशीन में नए किराए की दरों की फीडिंग अभी की जा रही है। फीडिंग होने के बाद यात्रियों को बढ़े हुए किराए के साथ प्रिंट टिकट दिया जाएगा।
उन्होंने बताया कि लखनऊ से अयोध्या के लिए अभी तक साधारण बस से यात्रियों को 184 रुपए भुगतान करना होता था जो अब बढक़र 187 हो गया है। लखनऊ से प्रयागराज तक का वातानुकूलित बस का किराया अब तक 408 देना होता था जो अब 452 कर दिया गया है।
क्षेत्रीय प्रबंधक पीके बोस ने बताया कि लखनऊ से हरदोई, रायबरेली, सीतापुर, अयोध्या व कानपुर तक वर्तमान किराए में दो से तीन रुपये तक का इजाफा किया गया है जबकि वातानुकूलित बसों के किराए में दूरी के हिसाब से बढ़ोतरी की गई है।

लखनऊ से नए किराए की सूची
साधारण बस
अयोध्या- 184 से 187 रुपए
प्रयागराज- 249 से 285 रुपए
दिल्ली- 682 से 688 रुपए
कानपुर- 114 से 115 रुपए
गोरखपुर- 359 से 371 रुपए
वाराणसी- 361 से 367 रुपए
बलिया- 477 से 487
सोनभद्र- 497 से 505