एमपी की महिला गोरखपुर में कर रही थी लूट, पुलिस ने किया गिरफ्तार

गोरखपुर। मध्यप्रदेश की महिला अपने साथियों संग मिलकर गोरखपुर में लूट की घटना को अंजाम दे रही थी। बुधवार को कैंट पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक उसका एक गिरोह है। जिसकी महिला सदस्य जहरखुरानी कर महिलाओं को लूटती है तो वहीं, पुरूष सदस्य पुरूषों को अपना निशाना बनाते हैं। इसके पहले ये लोग बलिया में लूट की घटनाओं को अंजाम दे रहे थे लेकिन वहां वे पकड़े गए। फिर जेल से छूटने के बाद इन लोगों ने जगह बदल दिया और गोरखपुर आ गए। गोरखपुर में पुलिस लाइंस के पास मुसाफिर खाना में ये गिरोह रहने लगा। पकड़ी गई अंतरराज्यीय जहरखुरानी गिरोह की महिला स्दस्य की पहचान 26 वर्षीय अंजली सिसौदिया पत्नी शालू सिसौदिया निवासी कडिय़ा थाना बोरा जनपद राजगढ़ मध्यप्रदेश के रूप में हुई। पुलिस ने उसके पास से 140 ग्राम डायजापाम बरामद किया है। कैंट इंस्पेक्टर शशिभूषण राय ने बताया कि एयरफोर्स चौकी क्षेत्र के रेलवे क्रासिंग के पास से पकड़ा है। पुलिस ने उस पर एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। कैंट इंस्पेक्टर ने बताया कि गिरोह की ?महिलाएं शहर में आटो रिक्शा ,टैक्सी व बसों में सफर कर रही महिलाओं के अगल बगल अपने साथियों के साथ बैठ जाती हैं। उन्हें खाने पीने के सामान मे नशीला पदार्थ मिलाकर अथवा मौका देखकर उनके गले का चैन काट कर ले लेती हैं या फिर उनके पर्स में रखे रुपये, मोबाइलों व अन्य कीमती सामानों को चोरी कर लेती हैं। बताया कि पिछले कुछ दिनों से यह गिरोह गोरखपुर शहर में सक्रिय था। इससे पहले यह गिरोह बलिया में अपने साथ की महिलाओं के साथ वारदात को अजाम दे रहा था। जिसके बाद बलिया पुलिस गिफ्तार कर जेल भेजा था। जमानत के पश्चात इस गैंग के लोग बलिया से गोरखपुर आकर अपने साथियों के साथ पुलिस लाइन के पास मुसाफिर खाना में रहने लगे।
गैंग के पुरूष गाडिय़ों की डिग्गी तोडक़र करते हैं चोरी
पुलिस के अनुसार, गैंग के पुरुष सदस्य चार पहिया वाहनों व मोटर साइकिलों की डिग्गी को तोडक़र रुपयों व कीमती सामानों की चोरी करते है। महिलाएं महिला यात्रियों के चैन व पर्स की चोरी करती हैं। महिला अंजलि की गिरफ्तारी के बाद उसका पति शालू सिसौदिया पुत्र भगत व इस गैंग के अन्य सदस्य मुसाफिर खाना से भाग गए हैं। वे पुलिस से छुप छुपा कर रह रहे है। पुलिस उनकी गिरफ्तारी के लिए लगी है। पुलिस ने गैंग के अन्य सदस्य शालू सिसोदिया पुत्र भगत सिंह, अमन सिसोदिया पुत्र साकी सिसोदिया, राज सिसोदिया पुत्र चन्द्र सिंह, कालू सिसोदिया पुत्र भगत सिंह के खिलाफ गोरखपुर के रामगढ़ताल थाने में एक साल पहले ही एक केस दर्ज है।