जेल से रिहा हुईं सांसद राणा

मुंबई। अदालत से जमानत मिलने के बावजूद एक दिन जेल में काटने के बाद अमरावती से निर्दलीय संसद नवनीत राणा को जेल से रिहा कर दिया गया है। हालांकि तबियत ज्यादा खराब होने के कारण वे घर की जगह मुंबई के लीलावती हॉस्पिटल के लिए निकली हैं। नवनीत की रिहाई भले ही हो चुकी है, लेकिन उनके पति और तलोजा जेल में बंद विधायक रवि राणा को अभी शाम तक रिहाई का इंतजार करना होगा। उनका जमानती ऑर्डर जेल तक पहुंच चुका है। अपने नेता की रिहाई की खबर से मुंबई से लेकर अमरावती तक उनके समर्थक जश्न में हैं। 23 अप्रैल से राजद्रोह के आरोप में राणा दंपती को गिरफ्तार किया गया था।
दोनों की ओर से बोरीवली कोर्ट में गुरुवार को 50-50 हजार रुपए का बेल बॉन्ड जमा किया गया है। मजिस्ट्रेट की ओर से मिला रिहाई का आदेश लेकर दो टीमें भायखला और तलोजा जेल पहुंची हैं। बता दें कि नवनीत राणा को भायखला महिला जेल जबकि रवि राणा को तलोजा जेल में रखा गया था।
राणा समर्थकों ने शिवसेना ऑफिस में की तोडफ़ोड़: राणा दंपती के समर्थकों पर अमरावती में आरोप लगा है कि रिहाई की जानकारी मिलने के बाद देर रात कुछ लोग शराब के नशे में धुत्त होकर शिवसेना ऑफिस पहुंचे और वहां जमकर तोडफ़ोड़ की है। इस घटना को लेकर अमरावती पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी। मौके से पेट्रोल की बोतल भी बरामद हुई है, शिवसेना कार्यकर्ताओं का दावा है कि उपद्रवी उनके ऑफिस को आग लगाना चाह रहे थे।