वैदिक मंत्रोच्चार के बीच निकली श्रीराम महायज्ञ की कलश यात्रा

बस्ती। नगर पंचायत गायघाट के झारखंडेश्वर नाथ मंदिर में 11 दिवसीय श्रीराम महायज्ञ का शुभारम्भ कलशयात्रा से हुआ। कलश यात्रा में घोड़ा, रथ व गाजे-बाजे शामिल रहे। इसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने भक्तिभाव से भाग लिया। कलशयात्रा में 108 कन्याओं के साथ हजारों की संख्या में पुरूष व महिलाएं बैण्ड-बाजे पर बज रहे भक्ति संगीत धुन पर नाचते गाते शामिल हुए। झारखंडेश्वर नाथ मंदिर से गायघाट चौक, गाना, जनवल बबुरहिया होते हुए पवित्र मनोरमा संगम के रामपुर घाट पहुंची कलश यात्रा में शामिल महिलाओं ने विधि-विधान से जल भरा। जल लेने के बाद पदयात्रा करते हुए यज्ञ मंडप में कलश को स्थापित किया। यज्ञाचार्य पं. रामकांत मिश्र व काशी से पधारे यज्ञ पुरोहितों ने श्रद्धालुओं से पूजन अर्चन कर वैदिक मंत्रोच्चार के बीच कलश की स्थापना कराया। उन्होंने कहा कि मनुष्य के जीवन में सार्थकता धर्म की है। धर्म कार्य में सम्मिलित होना मानव जीवन का सबसे बड़ा कार्य है। आयोजक स्कन्द पाल ने क्षेत्र के लोगों से कथा में शामिल होने की अपील की।