गोरखपुर को बनाए देश का पहला तमंचा मुक्त जिला

गोरखपुर। एडीजी गोरखपुर अखिल कुमार ने गोरक्षनगरी के ग्राम प्रधानों का आह्वान किया कि गोरखपुर को देश का पहला तमंचा मुक्त जिला बनाएं। इस कार्य में पुलिस ग्राम प्रधानों को अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करेगी। उन्होंने पूर्व में चलाए अपने अभियान ‘तमंचा से भी ग्राम प्रधानों को अवगत कराया। अखिल कुमार सोमवार को जिलाधिकारी विजय किरण आनंद की पहल पर जिले की 1294 ग्राम पंचायतों के ग्राम प्रधानों ‘उन्मुखीकरण कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे। कार्यशाला के पहले दिन 10 विकास खण्ड से 659 ग्राम प्रधान शामिल रहे। अखिल कुमार ने कार्यशाला के आयोजन और उन्हें आमंत्रित करने के लिए जिलाधिकारी विजय किरण आनंद एवं मुख्य विकास अधिकारी इंद्रजीत सिंह का आभार व्यक्त किया। उन्होंने ग्राम प्रधानों से सीधा संवाद में पूछा कि कितने ग्राम प्रधान दावा करते हैं कि उनका गांव तमंचा मुक्त है? सवाल के जवाब में मुश्किल से 30 से 35 ग्राम प्रधानों ने हाथ खड़े किए। उन्होंने कहा कि वे ग्राम प्रधान हाथ उठाए जिनके गांव तमंचा मुक्त नहीं है? इस बार अधिकांश प्रतिक्रिया नहीं दी। उसके बाद अखिल कुमार ने ग्राम पंचायतों को लोकतंत्र की पहली कड़ी बताते हुए संकल्प दिलाया कि वे ग्राम पंचायतों को तमंचा मुक्त करें। इस कार्य में हर ग्राम पंचायत में नियुक्त बीट प्रभारी एवं चौकीदार ग्राम प्रधान की पुरजोर मदद करेंगे। उन्होंने ग्राम प्रधानों से दूसरी अपील की कि सभी जल्द से जल्द अपने अपने ग्राम पंचायत सभी बाजार और प्रवेश द्वार पर सीसी कैमरे लगाए। इससे न केवल अपराध की वारदातों में कमी आएगी बल्कि महिला सुरक्षा में भी काफी मदद मिलेगी।