आईएएस पूजा की जेल पहुंचते ही बिगड़ी तबीयत, मनरेगा घोटाले में इडी ने किया है गिरफ्तार

नई दिल्ली। मनरेगा घोटाले के आरोप में पकड़ी गईं झारखंड की खनन सचिव पूजा सिंघल ने जेल लाए जाने पर चक्कर आने की शिकायत की। इस पर जेल के डॉक्टरों को जांच के लिए बुलाया गया। जेल प्रशासन ने कहा कि फिलहाल आईएएस पूजा सिंघल की तबीयत सामान्य है। उन्हें मनरेगा के फंड का गबन करने के आरोप में बुधवार को प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद उन्हें 5 दिनों के लिए ईडी की रिमांड में भेजने का फैसला लिया गया था। उनकी रिमांड आज से शुरू हो रही है। ईडी उनसे लगातार 5 दिनों तक पूछताछ करेगी। उसकी ओर से अदालत से गुजारिश की गई थी कि सिंघल को 12 दिनों की रिमांड पर भेजा जाए, लेकिन अदालत ने 5 दिनों की ही मंजूरी दी। पांच दिनों तक पूछताछ के बाद पूजा सिंघल को 16 मई को फिर से अदालत में पेश किया जाएगा। पूजा सिंघल ने गिरफ्तारी के बाद बुधवार की रात बिरसा मुंडा केंद्रीय कारागार में काटी। रात के 10 बजे उन्होंने जेल में जैसे ही प्रवेश किया और मेन गेट खुला तो उनका ब्लड प्रेशर काफी अधिक बढ़ गया। उन्होंने चक्कर आने की शिकायत की और इसके बाद डॉक्टरों को जांच के लिए बुलाया गया। रिपोर्ट्स के मुताबिक जेल प्रशासन के दो सिपाही आनन-फानन में दवा दुकान पहुंचे और ब्लड प्रेशर की दवा लाकर पूजा सिंघल को दी गई। दवा खाने के बाद पूजा सिंघल का ब्लड प्रेशर नार्मल हुआ और उनकी स्थिति ठीक हुई। इसके बाद पूजा सिंघल को महिला वार्ड में भेज दिया गया।