फर्जी मृत्यु प्रमाणपत्र बनवाकर जालसाजी करने का आरोपित गिरफ्तार

गोरखपुरा। गोरखपुर जिले में फर्जी वसीयत और मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाकर जमीन कब्जा की कोशिश करने के आरोपित को रामगढ़ताल पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। दोपहर बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया जहां से जेल भेज दिया गया। फरार चल रहे तीन अन्य आरोपितों की तलाश चल रही है।
यहां बतादें कि भरवलिया बुजुर्ग निवासी नीरा राय ने पांच फरवरी 2022 को रामगढ़ताल थाने में भरवलिया गांव निवासी शैलेश दूबे उनके बेटे ध्रुव, प्रहलाद व सहयोगी देवदत्त के खिलाफ कूटरचित दस्तावेज तैयार कर जालसाजी करेन और धमकी देने का मुकदमा दर्ज कराया था।थानेदार को उन्होंने बताया था कि भरवलिया बुजुर्ग में पैतृक मकान है। पति की मौत के बाद वरासत में नाम भी दर्ज हो गया। घर में पूजापाठ के लिए बहुत पहले से सत्यनारायण दुबे आते थे। उनके मरने के बाद उनका बेटा शैलेश दुबे घर आते थे। जमीन हड़पने के लिए उन्होंने फर्जी वसीहत और सास का मृत्यु प्रमाण पत्र बनवा लिया।जिसके आधार पर मकान और जमीन कब्जा करने की कोशिश करने लगे। इसकी जानकारी होने पर नीरा राय ने खंड विकास अधिकारी खोराबार के यहां पर शिकायत की जो जांच में सही पायी गई।सीओ कैंट श्यामदेव बिंद ने बताया कि मुख्य आरोपित शैलेश दुबे को गिरफ्तार कर लिया गया है।अन्य की तलाश चल रही है।