धरने पर बैठक ओमप्रकाश राजभर

गाजीपुर/वाराणसी। सुभासपा अध्यक्ष पूर्व मंत्री ओम प्रकाश राजभर पर हमले के बाद सपा और सुभासपा के कार्यकर्ता प्रशासन के खिलाफ लामबंद हो गए हैं। आक्रोशित कार्यकर्ता शुक्रवार को हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए जिला मुख्यालय सरजू पाण्डेय पार्क में धरना प्रदर्शन शुरु कर दिया है। सुभासपा अध्यक्ष के हमलावरों की गिरफ्तारी और केस वापस लेना की मांग कर रहे हैं। ओमप्रकाश राजभर के साथ सपा नेता रामगोविंद चौधरी के नेतृत्व में विधायकों समेत सभी जनप्रतिनिधि जुटे हैं और विरोध दर्ज करा रहे हैं। सपा विधायक डॉ. वीरेंद्र यादव का कहना है कि सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर पर उनके क्षेत्र में हमला एक सोची-समझी साजिश है। इसमें भाजपा के लोग शामिल हैं। जमानियां विधायक और पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह ने कहा भाजपा को जिले में मिली करारी हार पच नहीं रही है। इसलिए वह इस तरह की ओछी कृत्य कर रहे हैं।
प्रशासन उनकी गिरफ्तारी में हीला हवाली कर कर रहा है। मालूम हो कि सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर मंगलवार को गौसलपुर गांव में कुछ युवकों द्वारा अपने ऊपर हमला किये जाने का आरोप लगाया था। हमलावरों के गिरफ्तारी की मांग को लेकर उन्होंने धरना दिया तो उन्हीं पर एफआईआर हो गई थी। इसके बाद शुक्रवार को सुभासपा कायऱ्कर्ताओं ने धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया है। वाराणसी, चंदौली और आसपास के जिलों से भी सुभासपा और सपा कार्यकर्ता गाजीपुर पहुंचे हैं।