सीएम बघेल ने मां दंतेश्वरी को चढ़ाई 11 किमी लंबी चुनरी

 

दंतेवाड़ा (छत्तीसगढ़)। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को बस्तर की आराध्य देवी मां दंतेश्वरी को 11 हजार मीटर यानी 11 किमी लंबी चुनरी चढ़ाई है। मां दंतेश्वरी को चुनरी चढ़ाते ही जिले ने एक नया वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बना लिया है। देवी को इतनी लंबी चुनरी चढ़ाते ही गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी इसे दर्ज कर लिया गया। गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम के नेशनल हेड आलोक कुमार ने इसका सर्टिफिकेट भी ष्टरू को सौंप दिया है। मुख्यमंत्री ने इस नए रिकॉर्ड के लिए दैनिक भास्कर और जिला प्रशासन की टीम को बधाई दी है।
दरअसल जिला प्रशासन के सहयोग से दंतेवाड़ा की डैनेक्स नवा गारमेंट फैक्ट्री की महिलाओं ने 11 किमी लंबी चुनरी बनाई है। इस काम में करीब 300 महिलाएं लगी थीं। 11 हजार मीटर लंबी चुनर बनाने में महज 7 से 8 दिन का समय लगा था। वहीं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के दंतेवाड़ा प्रवास से ठीक एक दिन पहले जिला प्रशासन ने चुनरी के साथ रोड शो भी निकाला था। इस आयोजन में क्षेत्र के जन प्रतिनिधि, अफसर, समेत भारी संख्या में भक्त भी उपस्थित हुए थे।
सीएम बोले- पूरी टीम को बधाई
मां दंतेश्वरी को चुनरी चढ़ाने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बातचीत की। उन्होंने बताया कि इतनी लंबी चुनरी दुनिया में और कहीं नहीं चढ़ाई गई है। दंतेवाड़ा जिला प्रशासन, डैनेक्स की महिलाओं ने नया कीर्तिमान रचा है। इसके लिए पूरी टीम को बधाई। ष्टरू ने कहा कि गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की तरफ से सर्टिफिकेट भी दे दिया गया है।
डेढ़ साल पहले मंदसौर में चढ़ाई गई थी 8 हजार मीटर चुनरी
गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकॉर्ड के नेशनल हेड आलोक कुमार ने बताया कि, गोल्डन बुक में ऐसी चीजों को लिया जाता है जो बेहद यूनिक हो, पहली बार हो रही हो। मध्यप्रदेश के मंदसौर में मां नर्मदा मैया को करीब डेढ़ साल पहले 8 हजार मीटर लंबी चुनरी चढ़ाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया गया था। लेकिन, अब छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में मां दंतेश्वरी को 11 हजार मीटर लंबी चुनरी चढ़ाकर मंदसौर के वर्ल्ड रिकॉर्ड को ब्रेक कर दिया गया है। इस नए रिकॉर्ड को हमने गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज कर लिया है।